भैरव सेना ने ऋषिकेश के बड़े संत के खिलाफ पुतला दहन कर जोरदार नारेबाजी की

भैरव सेना ने ऋषिकेश के बड़े संत के खिलाफ पुतला दहन कर जोरदार नारेबाजी की

हरिद्वार: सोशल मीडिया पर फोटो वायरल को लेकर भैरव सेना ने ऋषिकेश के बड़े संत के खिलाफ पुतला दहन कर जोरदार नारेबाजी की। भैरव सेना मातृशक्ति वाहिनी की प्रदेश अध्यक्ष मिनी पुरी ने कहा कि संत समाज सनातन संस्कृति एवं हिन्दू संस्कृति के प्रचार-प्रसार में अपना योगदान देता है। लेकिन ऋषिकेश के प्रमुख संत अन्य धर्म के लोगों के साथ फोटो खिंचा कर हिन्दू संस्कृति की भावनाओं से खिलवाड़ कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि तीर्थनगरी ऋषिकेश की मान मर्यादाओं को ताक पर रखकर धर्म विशेष के लोगों को धार्मिक क्रियाकलापों में शामिल करना ठीक नहीं है। हिंदू संस्कृति के प्रचार प्रसार एवं श्रद्धालु भक्तों के द्वारा संत महापुरूषों द्वारा हिंदू संस्कृति के विषय में जानकारियां उपलब्ध करायी जाती हैं। लेकिन ऋषिकेश के यह संत धर्म विशेष के लोगों को तरजीह देने का काम कर रहे हैं। किसी भी सूरत में यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

विभाग अध्यक्ष रोहित कुमार व विभाग उपाध्यक्ष तानिया ने कहा कि संत समाज सनातन संस्कृति का गौरव है। हिंदू संस्कृति के संरक्षण संवर्द्धन में ही संत समाज को अपना विशेष ध्यान रखना चाहिए। अन्य धर्म समुदाय के लोगों को तीर्थ नगरी ऋषिकेश में आमंत्रित करना तर्क संगत नहीं है। हिंदू समाज की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का काम किया गया है। उन्होंने कहा कि सभी को अपने-अपने धर्म के क्रियाकलाप करने चाहिए। ना कि किसी धर्म को बढ़ावा देने का काम हो। संत समाज सदैव ही देश दुनिया में भारतीय संस्कृति को दर्शाने का काम कर रहा है। हिंदू संस्कृति को देश दुनिया में अपनाया जा रहा है। लेकिन ऋषिकेश के यह संत धर्म विशेष के लोगों को महत्व दे रहे हैं। जोकि ठीक नहीं है। प्रदर्शन व पुतला दहन करने वालों में मिनी पुरी, अंजलि, तानिया, रोहित कुमार, विशाल चौहान, सपना, विकास सिंह, लक्ष्मी सहित कई कार्यकर्ता शामिल रहे।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.