भाजपा प्रत्याशी डॉ.कल्पना सैनी ने किया अपना नामांकन पत्र दाखिल, राज्यसभा जाने वालीं प्रदेश की दूसरी महिला सदस्य बनेंगी

भाजपा प्रत्याशी डॉ.कल्पना सैनी ने किया अपना नामांकन पत्र दाखिल, राज्यसभा जाने वालीं प्रदेश की दूसरी महिला सदस्य बनेंगी

देहरादून: भाजपा की राज्यसभा प्रत्याशी डा. कल्पना सैनी ने मंगलवार को अपना नामांकन दाखिल किया। देहरादून स्थित पार्टी मुख्यालय से विधानसभा भवन तक पार्टी कार्यकर्ताओं ने जुलूस निकाला। भाजपा ने राज्यसभा की खाली सीट पर अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग की अध्यक्ष और यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री पृथ्वी सिंह विकसित की बेटी डा. कल्पना सैनी को टिकट दिया है। उनका निर्विरोध चुना जाना तय माना जा रहा है। डा. कल्पना सैनी के प्रतिनिधि ने मंगलवार को नामांकन पत्र भी खरीद लिया था।

मंगलवार दोपहर को सीएम पुष्कर धामी, उत्तराखंड प्रभारी दुष्यंत गौत, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल, प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, सांसद रमेश पोखरियाल निशंक समेत कई कैबिनेट मंत्रियों और पार्टी पदाधिकारियों की मौजूदगी में डॉ. कल्पना सैनी ने नामांकन पत्र जमा कराया।

उत्तराखंड राज्य के अस्तित्व में आने के बाद डॉ.कल्पना सैनी राज्यसभा जाने वालीं प्रदेश की दूसरी महिला सदस्य होंगी। इससे पहले स्व.मनोरमा शर्मा डोबरियाल कांग्रेस के टिकट से राज्यसभा जा चुकी हैं। राज्य गठन के बाद महिलाओं को राज्यसभा तक पहुंचाने के मामले में कांग्रेस ने शुरुआत की थी। राज्यसभा चुनाव के लिए भाजपा प्रत्याशी डॉ.कल्पना सैनी मंगलवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। इससे पहले पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने प्रदेश कार्यालय में सभी विधायकों की बैठक बुलाई है। बैठक में विधायकों को प्रस्तावक बनाने पर चर्चा हुई। बैठक के बाद पार्टी प्रत्याशी डॉ.सैनी विधान मंडल भवन पहुंची, जहां उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति में अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और पार्टी प्रभारी दुष्यंत गौतम, प्रदेश सह प्रभारी रेखा वर्मा, प्रदेश संगठन महामंत्री अजेय कुमार समेत कई अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।

मंगलवार को राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने का आखिरी का दिन है। कमजोर संख्या बल की वजह से कांग्रेस मुकाबले में नहीं है। इसलिए वह चुनाव में प्रत्याशी नहीं उतारा। भाजपा के पास विधानसभा में 47 विधायक हैं। दो निर्दलीय और दो बसपा विधायक भी हैं। कांग्रेस के 19 विधायक हैं। बहुमत भाजपा के पक्ष में होने से पार्टी प्रत्याशी का चुनाव में जीतना लगभग तय माना जा रहा है।

 

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.