भाजपा विधायक टी. राजा सिंह गिरफ्तार, पार्टी ने किया सस्पेंड, पैगंबर मोहम्मद पर दिया था विवादित बयान

भाजपा विधायक टी. राजा सिंह गिरफ्तार, पार्टी ने किया सस्पेंड, पैगंबर मोहम्मद पर दिया था विवादित बयान

नई दिल्ली:- पैगंबर मोहम्मद पर विवादित बयान की कंट्रोवर्सी एक बार फिर शुरू हो गई है। इस बार आरोपी हैं बीजेपी विधायक टी राजा सिंह। मंगलवार को हैदराबाद पुलिस ने उन्हें पैगंबर मोहम्मद पर आपत्तिजनक बयान देने पर गिरफ्तार कर लिया। टी. राजा के खिलाफ हैदराबाद में प्रदर्शन हो रहे हैं। इस बीच बीजेपी ने भी उन्हें पार्टी से सस्पेंड कर दिया है।

टी राजा सिंह हैदराबाद की गोशामहल विधानसभा से बीजेपी विधायक और पार्टी के चीफ व्हिप हैं। पहली बार उन्होंने 2014 में गोशामहल विधानसभा सीट से जीत दर्ज की थी। 2018 में तेलंगाना में टीआरएस की लहर में भी जीतने वाले बीजेपी के 5 विधायकों में से टी राजा एक थे। जबकि हारने वालों में थे जी किशन रेड्डी जो अब केंद्रीय मंत्री हैं और राज्यसभा सांसद के. लक्ष्मण भी थे। बजरंग दल के मेंबर रहे टी राजा ने 2009 में अपनी राजनीतिक यात्रा की शुरुआत टीडीपी से कॉर्पाेरेटर के रूप में की थी। 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले अप्रैल 2013 में टीडीपी छोड़कर बीजेपी से जुड़ गए थे। अगस्त 2018 में सिंह ने गोरक्षा आंदोलन के लिए खुद को समर्पित करने के लिए बीजेपी से अपने इस्तीफे की घोषणा की थी। इस दौरान उन्होंने सत्तारूढ़ टीआरएस पर गोरक्षा के लिए जरूरी कदम नहीं उठाने का आरोप भी लगाया था। 2014 में बीजेपी में शामिल होने के बाद से यह उनका तीसरा इस्तीफा था, लेकिन हर बार वे अपने फैसले से पीछे हट जाते रहे हैं।

टी राजा की वेबसाइट कहती है कि वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ यानी आरएसएस की युवा शाखा हिंदू वाहिनी से जुड़े रहे हैं। 2014 में पहली बार विधायक बनने से पहले उन्होंने गौ रक्षा आंदोलन में भाग लिया था। टी राजा की वेबसाइट कहती है कि वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ यानी आरएसएस की युवा शाखा हिंदू वाहिनी से जुड़े रहे हैं। 2014 में पहली बार विधायक बनने से पहले उन्होंने गौ रक्षा आंदोलन में भाग लिया था।

राजा ने अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर अपने बारे में जो जानकारी दी, उसमें बताया, ‘मेरा जन्म ऐसे परिवार में हुआ था, जिसका कोई राजनीतिक जुड़ाव नहीं रहा है। घर में पैसे नहीं होने के कारण मैं पढ़ाई नहीं कर सका। मेरे पूर्वज दशकों पहले हैदराबाद में बस गए थे और जीवन यापन के लिए देवी-देवताओं की मूर्तियां बनाते थे। मैंने भी अपने पारिवारिक कारोबार को जारी रखा।’ राजा ने शुरुआत में अपने घर के बाहर ऑडियो और वीडियो कैसेट बेचने की एक दुकान चलाई। बाद में इसे बंद करके इलेक्ट्रिक वायरिंग का बिजनेस शुरू कर दिया।

टी राजा और कंट्रोवर्सी का पुराना नाता रहा है। उन पर अब 75 आपराधिक मामले दर्ज हो चुके हैं। हैदराबाद पुलिस के असिस्टेंट कमिश्नर एम. नरेंद्र रेड्डी ने गोशामहल के बीजेपी विधायक टी राजा सिंह को 19 दिसंबर 2019 को राउडी शीटर कहा था। उन्होंने कहा था कि राजा का नाम उन लोगों की सूची में शामिल किया गया है, जिनके खिलाफ मंगलहाट पुलिस थाने में हिस्ट्री शीट खुली हुई है।

2018 में टी राजा की ओर से दाखिल चुनावी हलफनामे के मुताबिक उनके खिलाफ 43 आपराधिक मामले हैं। इनमें 16 पर चार्जशीट फाइल हो चुकी है। राजा पर धार्मिक उन्माद फैलाने के 17 मामले पहले से ही दर्ज हैं। नौ मामले धार्मिक भावनाओं को आहत करने के हैं। उनके ऊपर आगजनी, दंगा समेत कई तरह के गंभीर आरोप भी हैं।

वीडियो में पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ आपत्तिजनक शब्द बोले
22 अगस्त 2022 रू भाजपा विधायक टी राजा ने कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी के खिलाफ एक वीडियो जारी किया था। इसमें राजा ने पैगंबर मोहम्मद के लिए आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था। बाद में उन्होंने इसे मजाक बताया था। बयान के बाद बड़ी संख्या में लोग उनके विरोध में सड़कों पर उतर आए। सोमवार देर रात से हैदराबाद में जगह-जगह प्रदर्शन शुरू हो गए। भीड़ ने गुस्ताखे नबी की एक ही सजा, सिर तन से जुदा के नारे लगाते हुए टी राजा की गिरफ्तारी की मांग की।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.