मुंबई और गुजरात में कोरोना के XE वेरिएंट के मामले सामने आने के बाद केंद्र सरकार सतर्क

मुंबई और गुजरात में कोरोना के XE वेरिएंट के मामले सामने आने के बाद केंद्र सरकार सतर्क

देश में XE वैरीअंट के सक्रिय होने के बाद केंद्र सरकार भी कोरोना वायरस को लेकर सतर्क हो गई है। मुंबई और गुजरात में XE वेरिएंट के मामले सामने आने के बाद केंद्र सरकार भी कोरोना वायरस को लेकर सतर्क हो गई है। हीं केंद्र सरकार ने पांच राज्यों को अलग से एडवाइजरी जारी कर सतर्कता बरतने को कहा है। इधर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी कोरोना के XE वेरिएंट को लेकर चेतावनी जारी कर दी है।

कई यूरोपीय देशों और एशियाई देशों में ओमीक्रोन के सब वेरिएंट तबाही मची हुई है। चीन, साउथ कोरिया में कोरोना महामारी के चलते हालात बेहद खस्ता हो चुके हैं। चीन का शंघाई शहर बुरी तरह से कोरोना की मार झेल रहा है।

XE वेरिएंट ओमीक्रोन के सब-वेरिएंट BA.1 और BA.2 के मुकाबले 10 गुना ज्यादा तेजी से फैलता है। XE ओमीक्रोन के दोनों सब-वेरिएंट का हाइब्रिड है। शुरूआती रिसर्च के मुताबिक, जांच के दौरान XE वेरिएंट की पहचान करना काफी मुश्किल होता है। अब तक कोविड के तीन हाइब्रिड या रिकॉम्बिनेंट स्ट्रेन का पता चला है, जिसमें से पहला- XD, दूसरा- XF और तीसरा- XE है। इनमें से पहले और दूसरे वेरिएंट डेल्टा और ओमीक्रोन के कॉम्बिनेशन से पैदा हुए हैं, जबकि तीसरा ओमीक्रोन सबवेरिएंट का हाइब्रिड स्ट्रेन है।

XE वेरिएंट के लक्षण

XE variant ओमीक्रोन के दो वेरिएंट से मिलकर बना है। ऐसे में माना जा रहा है कि इसके लक्षण भी ओमीक्रोन वेरिएंट से मिलते-जुलते हो सकते हैं। XE वेरिएंट में थकान, चक्कर आना, सिर दर्द, गले में खराश, बुखार, बदन दर्द, नाक बहना और डायरिया के लक्षण महसूस हो सकते हैं। इसके अलावा XE से संक्रमित मरीजों को भी कोरोना की तरह सूंघने और स्वाद में कमी महसूस हो सकती है।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.