हरिद्वार पुलिस एक ओर कारनामा, एक और 10000 का इनामी अपराधी ने किया सरेंडर

हरिद्वार पुलिस एक ओर कारनामा, एक और 10000 का इनामी अपराधी ने किया सरेंडर

हरिद्वार:- हरिद्वार जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के पद पर कमान संभालते ही आईपीएस अधिकारी अजय सिंह के तेवर रंग दिखाने लगे हैं। पूर्व कार्य अपराधों में लिप्त इनामी बदमाशों की धरपकड़ के लिए चलाया गया अभियान असर दिखाने लगा है।

जनपद हरिद्वार में गोकशी जैसे घृणित और आमजन मानस की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाले संज्ञेय अपराध कारित कर अपनी जीविका यापन कर रहे अपराधियों पर लगाम कसने के लिए मंगलौर पुलिस के द्वारा पूर्व से ही उपरोक्त अपराधो में संलिप्त रहने वाले अभीयुक्त गण
1- सुभान पुत्र खलील अहमद
2- इरफान पुत्र खलील
3- शमीम पुत्र खलील निवासी गण मोहल्ला पठान चौक कस्बा लंढोरा कोतवाली मंगलोर के विरुद्ध थाना मंगलोर पर दिनांक 19/09/22 को मुकदमा अपराध संख्या 1094 /22 धारा 2/3 गैंगस्टर एक्ट पंजीकृत कर अभियुक्त गणों की धर पकड़ हेतु दबिश देकर अभियुक्त गण सुभान और इरफान उपरोक्त को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया था।

अभियुक्त के मकान व संभावित स्थानों पर बार-बार दबिश देने पर भी अभियुक्त शमीम उपरोक्त न मिलने एवं लगातार फरार चल रहे उक्त अभियुक्त पर ₹ 10,000 का इनाम घोषित किया गया था।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार के इनामी अपराधियों को गिरफ्तार किए जाने के कड़े दिशानिर्देशों के तहत ईनामी अभियुक्त शमीम के घर पर दबिश दी गयी, अभियुक्त मौजूद नहीं मिला।

जिस पर अभियुक्त के घर पर ₹ 10,000 के ईनाम के आदेश को चस्पा किया गया एवं घोषित इनाम का प्रचार-प्रसार करवाया गया। जिससे भयभीत होकर अभियुक्त शमीम पुत्र खलील निवासी मोहल्ला पठान चौक लंढोरा के द्वारा न्यायालय में आत्मसमर्पण किया गया गया।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *