कुमाऊं और गढ़वाल के पर्वतीय जिलों में भारी से लेकर बहुत बारिश के साथ भारी बर्फबारी

कुमाऊं और गढ़वाल के पर्वतीय जिलों में भारी से लेकर बहुत बारिश के साथ भारी बर्फबारी

उत्तराखंड: पश्चिमी विक्षोभ के फिर से सक्रिय होने से अगले 48 घंटे उत्तराखंड समेत देश के कई राज्यों में मैदान से लेकर पहाड़ तक मौसम खासा बिगड़ा रहेगा। मौसम विज्ञानियों ने गढ़वाल और कुमाऊं के पर्वतीय जिलों में भारी से लेकर बहुत अधिक भारी बारिश की आशंका जताई है।

मौसम के बदले मिजाज और भारी बारिश की आशंकाओं को देखते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। साथ ही देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी और टिहरी जैसे जिलों में बारिश के साथ ओलावृष्टि और आकाशीय बिजली गिरने के भी आसार हैं। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक एवं वरिष्ठ मौसम विज्ञानी विक्रम सिंह के मुताबिक मौसम के बदले मिजाज के चलते राज्य के कुमाऊं और गढ़वाल क्षेत्रों में 2500 मीटर या उससे अधिक ऊंचाई वाले स्थानों पर बारिश के साथ भारी बर्फबारी की आशंका है।

वहीं रुद्रप्रयाग जिले में सुबह से हल्की बारिश हो रही है। केदारनाथ सहित ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी का भी दौर जारी है।बता दें की केदारनाथ समेत चारधाम में बर्फबारी शुरू है। नैनीताल और धानाचूली क्षेत्र में भी तेज बर्फबारी हुई है। औली, चकराता और धनोल्टी में भी हिमपात हुआ है। बर्फबारी की खबर पाकर पर्यटक इन स्थलों का रुख कर रहे हैं। आलम ये है कि प्रदेश में इतनी बर्फबारी हुई है कि ऊंची वादियां सफेद चादरों से ढंक गईं हैं।

देहरादून मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार तीन और चार फरवरी को भारी से भारी बारिश, पर्वतीय जिलों में ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी और ऊधमसिंह नगर में ओलावृष्टि की संभावना है। पांच और छह फरवरी को पर्वतीय जिलों में हल्की बारिश की संभावना है, जबकि मैदानी जिलों में मौसम शुष्क रहने की उम्मीद है।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.