महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने किया विभागों का बंटवारा, देवेंद्र फडणवीस को मिले बड़े मंत्रालय

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने किया विभागों का बंटवारा, देवेंद्र फडणवीस को मिले बड़े मंत्रालय

मुंबई:- महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के लगभग डेढ़ महीने बाद रविवार को मंत्रिपरिषद में विभागों का बंटवारा करने की घोषणा की है। उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को गृह, वित्त और योजना, कानून-न्याय, जल संसाधन, कमान क्षेत्र विकास, आवास, ऊर्जा, प्रोटोकॉल विभाग जैसे प्रमुख मंत्रालय सौंपे हैं। शिंदे ने अपने पास प्रशासन, शहरी विकास, सूचना और जनसंपर्क, लोक निर्माण विभाग रखे हैं। महाराष्ट्र में सियाथी उथल-पुथल के साथ 30 जून को एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। इसके बाद 09 अगस्त को 18 विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई. इसमें भाजपा-शिंदे गुट से 9-9 विधायक मंत्री बने थे। मुंबई के राजभवन में एक भव्य समारोह में शपथ ग्रहण समारोह हुआ था। अब इन्हीं के बीच विभागों का बंटवारा किया गया है। आवंटित इन सभी विभागों की घोषणा राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की मंजूरी के बाद की गई है।

वरिष्ठ भाजपा नेता चंद्रकांत पाटिल को उच्च और तकनीकी शिक्षा, कपड़ा उद्योग और संसदीय कार्य आवंटित किये गए हैं। रविंद्र चव्हाण को लोक निर्माण (सार्वजनिक उद्यमों को छोड़कर), खाद्य और नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता संरक्षण मंत्रालय सौंपा गया है। भाजपा नेताओं को आवंटित अन्य प्रमुख विभागों में गिरीश महाजन को ग्राम विकास और पंचायती राज विकास, चिकित्सा शिक्षा, खेल और युवा कल्याण के प्रमुख बनाया गया है। श्रम विभाग के नेतृत्व में सुरेश खाड़े के साथ मंगल प्रभात लोढ़ा को पर्यटन, कौशल विकास और उद्यमिता और महिला तथा बाल विकास के प्रमुख बनाया गया है। राधाकृष्ण विखे को राजस्व विभाग, पशुपालन और डेयरी विकास विभाग की जिम्मेदारी दी गई है।

सांस्कृतिक, आदिवासी विकास और पिछड़ा वर्ग विभाग इन्हें मिला

वानिकी, सांस्कृतिक गतिविधियों और मत्स्य पालन विभाग सुधीर मुनगंटीवार को मिला हसैं. आदिवासी विकास विजयकुमार गावित और सहकारिता, अन्य पिछड़ा व बहुजन कल्याण विभाग अतुल सावे को दिया गया है। बंदरगाह और खनन विभाग दादा भुसे को आवंटित किया गया है। शंभूराजे देसाई को आबकारी विभाग, संदीपन भुमरे को रोजगार गारंटी योजना एवं बागवानी विभाग सौंपा गया है। उदय सामंत को उद्योग विभाग दिया गया है। तानाजी सावंत को लोक स्वास्थ्य और कल्याण विभाग सौंपा गया है। अब्दुल सत्तार को कृषि विभाग और दीपक केसरकर को स्कूली शिक्षा-मराठी भाषा विभाग दिया गया है। गुलाबराव पाटिल को जलापूर्ति और स्वच्छता, संजय राठौड़ को खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग आवंटित हुआ है।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *