लिफ्ट देने के बहाने मां एवं मासूम बच्ची को बनाया था निशाना, पुलिस ने किया 5 आरोपियों को गिरफ्तार

लिफ्ट देने के बहाने मां एवं मासूम बच्ची को बनाया था निशाना, पुलिस ने किया 5 आरोपियों को गिरफ्तार

हरिद्वार:- दिनांक 25/06/22 को मुकदमा वादिनी/पीडिता निवासी कलियर थाना कलियर जनपद हरिद्वार ने बयान जुबानी के आधार पर कोतवाली रूडकी में मु0अ0सं0 475/22 धारा 376 (घ)/376(घ)(ख) भादवि व 5M/6 पोक्सो अधि0 पंजीकृत कराया। अभियोग में पीडिता द्वारा अपनी 05 वर्ष की पुत्री एवं स्वंय के साथ सामूहिक बलात्कार करने के आरोप लगाये गये।

अभियोग में लगाये गये आरोपों को गम्भीरता से लेते हुए अभियोग के अनावरण हेतु प्रभारी निरीक्षक कोतवाली रुड़की के नेतृत्व में कर्मचारियो की टीमें गठित की गई। प्रकरण अत्यन्त जघन्य होने के कारण टीम प्रभारी, सीआईयू रूड़की प्रभारी एवं म0उ0नि0 / विवेचक द्वारा दोनों घटनास्थल का सूक्ष्म निरीक्षण किया गया। मुकदमा की वादिनी द्वारा घटना में सोनू नाम का व्यक्ति जो कि गुलाबी रंग की शर्ट पहने था जिसके द्वारा अपनी मो0सा0 पर बच्ची सहित कलियर कहकर बैठाया व सोनाली पुल पार कर हाइवे की तरफ से जाने वाले रास्ते से नीचे पार्क की तरफ सुनसान स्थान पर ले जाकर जबरन शारीरिक सम्बन्ध बनाना एवं जबरन शारीरिक सम्बन्ध बनाने के बाद सफेद रंग की आल्टो कार में आये 04 व्यक्तियों द्वारा महिला पीडिता एवं उसकी नाबालिक बच्ची को उस गाडी में जबरदस्ती डालकर ले गये.

कोर इन्जीनियरिगं कालेज से मंगलौर की तरफ करीब ढाई कि०मी० ले जाकर खेतो में पीडिता के साथ व कार में वादिनी की बच्ची के साथ जबरन बलात्कार किया, कार में बैठी बच्ची की चीख पुकार सुनकर पीड़िता कार की तरफ आई तो देखा की बच्ची का मुहं दबाए हुए एक आदमी उसे गाडी से उतार रहा था पीडिता के विरोध करने पर उस व्यक्ति ने महिला/ पीडिता को धक्का देकर गिरा दिया एवं चारो व्यक्ति कार में बैठकर मंगलौर की तरफ भाग गये।

स्थानीय लोगो द्वारा वादिनी एवं उनकी पुत्री को देखकर कन्ट्रोल रूम को सूचना दी गई। जिस पर चेतक कर्मी, रात्रिधिकारी एवं एम्बुलेन्स मौके पर पहुचें, जहां पर गम्भीर हालत में मिली पीडिता एंव बच्ची को तत्काल अस्पताल ले जाकर भर्ती कराया गया व महिला की जुबानी तहरीर पर उचित धाराओ में अभियोग पंजीकृत किया गया।

उपरोक्त जघन्य अपराध को देखते हुए गठित सभी टीमो द्वारा आने जाने वाले रास्तों पर लगे सीसीटीवी कैमरो की गहनता से छानबीन कर मोटरसाइकिल एंव कार सवार आल्टो की सीसीटीवी फुटेज एव उक्त घटनास्थलों का डम्प डाटा लेकर विश्लेषण किया गया सीसीटीवी फुटेज एवं डम्प डाटा के अवलोकन/ विश्लेषण के आधार पर एवं मुखविर की सूचना पर दिनांक 29.06.2022 को सोनू नाम के व्यक्ति एंव सफेद आल्टो कार की तलाश व सुरागरसी पतारसी के आधार पर दिनांक 29/06/2022 को अभियुक्तगण
1) महक सिहं उर्फ सोनू पुत्र सरजीत निवासी ग्राम इमलीखेड़ा थाना कलियर जनपद हरिद्वार को मय घटना में प्रयुक्त मोटर साईकिल के गिरफ्तार किया गया। पकडे गये व्यक्ति महक सिंह उर्फ सोनू उपरोक्त ने पूछताछ में बताया कि उसने घटना के दिन एक महिला तथा उसके साथ एक बच्ची को कलियर छोडने की बात कहकर धोखे से सुनसान स्थान पर ले जाकर औरत के साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाये उसके तुरन्त बाद वहां पर एक आल्टो कार सफेद रंग न० UP12R-5646 जिसके बोनट पर किसी संगठन का झण्डा लगा था और उसमें 4 व्यक्ति सवार थे जिन्होंने आते ही उस महिला तथा छोटी बच्ची को जबरदस्ती आल्टो कार में बैठाकर कही ले गये, मैं वहां से घबराते हुए बिना किसी को बताये वहां से अपने घर चला आया।

अभियुक्त महक सिहं उर्फ सोनू से पूछताछ में घटना में प्रयुक्त आल्टो सफेद रंग की गहनता से छानबीन से पता चला कि उक्त आल्टो कार गाडी राजीव उर्फ विक्की तोमर पुत्र ब्रहमपाल निवासी ग्राम बेलडा थाना भोपा जिला मुज्जफरनगर उ0प्र0 के नाम पर पंजीकृत है सीसीटीवी फुटेज एवं अन्य टीमों से प्राप्त सूचना, डम्प डाटा विश्लेषण मुखविर तन्त्र से प्राप्त सूचना के आधार पर उपरोक्त आल्टो गाडी जिसमें दो व्यक्ति नाम राजीव उर्फ विक्की तोमर उम्र- 46 वर्ष तथा सुबोध पुत्र देवेन्द्र कुमार निवासी बेलडा थाना भोपा जिला (मुज्जफरनगर उम्र 30 वर्ष को पकडा गया जिनसे गहनता से पूछताछ की गयी तो जुर्म स्वीकार करते हुए घटित घटना को अंजाम देते समय उनके साथ साथी सोनू तेजियान पुत्र यशपाल सिहं निवासी साल्हापुर थाना देवबन्द जिला सहारनपुर उम्र 32 वर्ष व जगदीश पुत्र स्व0 फूल सिहं निवासी साल्हापुर थाना देवबन्द जिला सहारनपुर उम्र 34 वर्ष का सम्मलित होना बताया गया। घटना में सम्मलित सोनू तेजियान व जगदीश को भी दिनांक 30/06/22 को गिरफ्तार किया गया।
घटना में प्रयुक्त गाडी अभि0गण के कब्जे से बरामद की गई। वैज्ञानिक साक्ष्य संकलन हेतु फील्ड यूनिट को बुलाकर साक्ष्य संकलित किये जा रहे हैं। घटना को लेकर विभिन्न राजनैतिक दलो तथा आम जनमानस में अत्यधिक आक्रोश व्याप्त था राष्ट्रीय महिला आयोग द्वारा भी घटना स्थल का निरीक्षण एवं पीडिता से बातचीत की गई। घटना के अनावरण में लगी समस्त टीमो द्वारा अनवरत मोबाइल नम्बरो का विश्लेषण एंव सैकड़ों सीसीटीवी कैमरो की फुटेज का बारीकी से विश्लेषण किया गया।
अभियोग में अज्ञात अभियुक्तगणो को मात्र 06 दिवस में गिरफ्तार किया गया है।

अनावरण हेतु गठित टीमो के उत्साहवर्धन हेतु पुलिस उपमहानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र उत्तराखण्ड द्वारा 50,000/- रू0 के ईनाम की घोषणा की गई है।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.