NSA अजीत डोभाल के घर में घुसने वाला शख्स हिरासत में, बॉडी में मिली चिप फिट

NSA अजीत डोभाल के घर में घुसने वाला शख्स हिरासत में, बॉडी में मिली चिप फिट

दिल्ली: राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल की कोठी में गाड़ी लेकर जबरन घुसने का प्रयास करने पर एक व्यक्ति को हिरासत में लिया गया है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है। बुधवार सुबह एक व्यक्ति ने कार लेकर जबरन एनएसए अजीत डोभाल के घर में घुसने का प्रयास किया। हालांकि पहले से सतर्क सुरक्षा बलों ने उसे गेट पर ही पकड़ लिया।

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि अज्ञात व्यक्ति ने एनएसए अजीत डोभाल के आवास में जबरन एंट्री करने की कोशिश की, हालांकि उसे सुरक्षा बलों ने रोक दिया। पता चला कि हिरासत में लिया गया व्यक्ति बेंगलुरु का रहने वाला है। उसे दिल्ली पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल उससे पूछताछ कर रही है। एनएसए अजीत डोभाल हमेशा ही आतंकियों के निशाने पर रहे हैं। वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सबसे विश्वस्त अधिकारियों में गिने जाते हैं।

पुलिस के मुताबिक, पकड़े जाने के बाद शख्स कुछ बड़बड़ा भी रहा था। वह कह रहा था कि उसकी बॉडी में किसी ने चिप लगा दिया है और उसे रिमोट से कंट्रोल किया जा रहा है। हालांकि, दिल्ली पुलिस ने कहा कि जांच में उसकी बॉडी से कोई चिप नहीं मिला है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक हिरासत में लिया गया शख्स का नाम शांतनु रेड्डी बताया गया है। वह नोएडा से रेड कलर की SUV कार किराए पर लेकर एनएसए डोभाल के घर पहुंचा था। कार को अंदर घुसाने की कोशिश के दौरान ही उसे पकड़ लिया गया। फिलहाल स्पेशल सेल की टीमें मामले की जांच कर रही हैं।

बेहद कड़ी सुरक्षा में रहते हैं अजीत डोभाल

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को कड़ी सुरक्षा मिली है। अजीत डोभाल की सतर्क रणनीति की वजह से पाकिस्तान और चीन भी हमेशा संभले हुए रहते हैं। अक्सर देश के विवादित हिस्सों में परिस्थितों को सुलझाने उन्हें भेजा जाता है। सूत्रों के मुताबिक अजीत डोभाल कई आतंकी संगठनों के निशाने पर रहते हैं।

फरवरी 2021 में अजीत डोभाल के दफ्तर के बाहर जैश के आतंकी के पास अजीत डोभाल के दफ्तर की रेकी का एक वीडियो मिला था। वीडियो को आतंकी ने अपने पाकिस्तानी सहयोगियों को भेजा था। जैसे ही यह जानकारी सुरक्षा एजेंसियों को मिली थी, एनएसए के घर सुरक्षा बढ़ा दी गई थी।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.