राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के उपलक्ष में देहरादून के एक होटल में राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस मनाया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में कैबिनेट मिनिस्टर रेखा आर्य ने शिरकत की

राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के उपलक्ष में देहरादून के एक होटल में राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस मनाया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में कैबिनेट मिनिस्टर रेखा आर्य ने शिरकत की

देहरादून: राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के उपलक्ष में देहरादून के एक होटल में राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस मनाया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में कैबिनेट मिनिस्टर रेखा आर्य ने शिरकत की। कार्यक्रम में आत्मनिर्भर भारत राष्ट्रीय ग्राम में सशक्तिकरण पुरस्कार 2022 वितरित किए गए जिसमें देश भर से 32 ग्राम प्रधानों को पुरस्कार दिए गए। बतौर मुख्य अतिथि के रूप में मती रेखा आर्य देश भर से आए ग्राम प्रधानों को पुरस्कार वितरण किया और मंच को संबोधित करते हुए कहा की पंचायती राज की शुरुआत ग्राम के वार्ड मेंबर से शुरू होती है। इस व्यवस्था के तहत जुड़े होने से जनता के बीच में जुड़ने का मौका मिलता है ।साथ ही इस व्यवस्था से जुड़ने के बाद हम जनप्रतिनिधि जनता की आवाज बन प्रशासन से काम करवा पाते हैं। इस दौरान उन्होंने जोर देकर कहा की पद के बजाय काम की महत्ता ज्यादा है। प्रधान से प्रधानमंत्री तक का सफर तय करना है तो प्रधानी सीखनी होगी, तब कोई भी जनता के कामों को करते हुए आपको आगे बढ़ने से कोई रोक नहीं सकता।

इसके अलावा उन्होंने जोर देते हुए कहा कि आज महिलाएं भी बढ़-चढ़कर जनप्रतिनिधि बनकर अच्छा काम जनता के लिए कर रही हैं। महिलाओं के लिए जो 50 पर्सेंट आरक्षण है यह महिलाओं के लिए बेहतर अवसर देता है । कार्यक्रम में 32 लोगों को पंचायत स्तर पर बेहतर काम करने के लिए सोशल सिक्योर ग्राम पंचायत पुरस्कार से महिला एवं बाल सशक्तिकरण मंत्री रेखा आर्य ने वितरित किए। इस दौरान उन्होंने पंचायत स्तर पर जम्मू से आए मक्खन सिंह मनास जो कि होटल इंडस्ट्री से जुड़े है के ग्राम पंचायत में किये काम को सराहा। वही नागपुर से आए सुधीर पाटील जोकि एमबीए हैं के पंचायत स्तर पर बेहतर काम करने के जज्बे को सराहा और कहा की यही जज्बा हमें जनता की सेवा करने का मौका देता है।

कार्यक्रम में उत्तराखंड के 2 ग्राम पंचायत जिसमें ऋषिकेश की खदरी खड़क माफ और केदार वाला जोकि विकास नगर के समीप है के ग्राम प्रधानों द्वारा सोशल सिक्योर ग्राम पंचायत के पुरस्कार से नवाजे जाने पर मंत्री महोदय ने खुशी जाहिर की और ऐसे ही ग्राम पंचायत से जुड़े जनप्रतिनिधियों को आगे भी काम करने को कहा। इस दौरान डॉ मनोज पंत सीईओ सेंटर फॉर गुड गवर्नेंस, डीपी देवराड़ी रिटायर्ड डायरेक्टर पंचायतीराज, एमएस नेगी सचिव एसडब्ल्यू सीडब्ल्यू सोसाइटी, हरीश चंद्र सेमवाल सचिव महिला व बाल विकास, मोहित चौधरी मुख्य प्रोबेशन अधिकारी महिला कल्याण सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.