पांच सितबंर को उत्तराखंड के दो शिक्षकों को राष्ट्रपति करेंगी राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित

पांच सितबंर को उत्तराखंड के दो शिक्षकों को राष्ट्रपति करेंगी राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित

देहरादून:-  उत्तराखंड के शिक्षाजगत के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश के दो वरिष्ठ शिक्षकों को इस  साल राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार 2022 के लिए चुना गया है। प्रधानाचार्य कौस्तुभचंद्र जोशी और प्रवक्ता प्रदीप नेगी को पांच सितंबर को राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मु दिल्ली में सम्मानित करेंगी। इस साल देश में राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार के लिए 46 शिक्षकों का चयन किया गया है।

दोनों के चयन से शिक्षकों में खुशी की लहर है। उत्तराखंड से तीन शिक्षकों का नाम राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए भेजा गया था। जिसमें दो को चुना गया है। बता दें  कि वर्ष 2018 से केंद्र सरकार ने पुरस्कार के मानक काफी कड़े कर दिए हैं। तब से चयन प्रक्रिया में शामिल होना भी बड़ी परीक्षा होता है।

पहले जहां उत्तराखंड को हर साल छह से सात शिक्षकों को पुरस्कार मिल जाता था। अब एक-एक पुरस्कार के लिए काफी कड़ी चुनौती का सामना करना पड़ता है। जोशी की ओपन केटेगरी में चुना गया है। जबकि नेगी स्पेशल कैटेगरी( दिव्यांग) के तहत पुरस्कार के लिए पात्र पाए गए।  दोनो शिक्षक राष्ट्रीय आईसीटी पुरस्कार से भी सम्मानित हैं। कोरोना महामारी की वजह से दो साल तक उत्तराखंड की झोली पुरस्कार से खाली रही थी।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.