2022 के पहले ‘मन की बात’ कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को याद किया

2022 के पहले ‘मन की बात’ कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को याद किया

दिल्ली: 2022 के पहले ‘मन की बात’ कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक तरफ जहां राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को याद किया, वहीं दूसरी ओर उन्होंने चुनावी राज्यों का भी जिक्र किया। उन्होंने भ्रष्टाचार को लेकर लोगों को उनके कर्तव्यों की याद दिलाई। उन्होंने बताया कि आजादी के अमृत महोत्सव पर मुझे एक करोड़ से ज्यादा बच्चों ने अपने ‘मन की बात’ पोस्टकार्ड के जरिए लिखकर भेजी है।

पीएम मोदी ने कहा कि देश तेजी से आगे बढ़ रहा है, लेकिन भ्रष्टाचार दीमक की तरह देश को खोखला करता है। उससे मुक्ति के लिए इंतजार क्यों करें। यह काम हम सभी देशवासियों को आज की युवा पीढ़ी को मिलकर करना है, जल्द से जल्द करना है। इसके लिए बहुत जरूरी है कि हम अपने कर्तव्यों को प्राथमिकता दें। जहां कर्तव्य निभाने का एहसास होता है, कर्तव्य सर्वोपरि होता है, वहां भ्रष्टाचार भी नहीं रह सकता।

पीएम ने जाट राजा महेंद्र प्रताप का जिक्र किया।उन्होंने कहा कि महेंद्र प्रताप ने तकनीकी स्कूल की स्थापना के लिए अपना घर ही सौंप दिया था। उन्होंने अलीगढ़ और मथुरा में शिक्षा केंद्रों के निर्माण के लिए आर्थिक मदद की थी।पीएम ने उत्तराखंड और मणिपुर का भी जिक्र किया। पीएम ने कहा कि उत्तराखंड की बसंती देवी को पद्मश्री से सम्मानित किया गया है। उन्होंने अपनी पूरी जिंदगी संघर्षों में ही खपा दिया। मणिपुर की लौरेंबम का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने अपने राज्य की लीबा टेक्सटाइल पर बहुत काम किया है। उन्हें भी पद्मश्री से सम्मानित किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ‘मन की बात’ की। उन्होंने ‘मन की बात’ में महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इसलिए आज का कार्यक्रम 11.30 बजे शुरू हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार दीमक की तरह देश को खोखला करता है, ऐसे में हमें अपने कर्तव्यों को प्राथमिकता देनी चाहिए। क्योंकि जहां कर्तव्य सर्वोपरि होता है वहां भ्रष्टाचार नहीं रह सकता।

आपको बता दें, 19 जनवरी को ‘मन की बात’ के लिए अपने सुझाव और विचार रिकॉर्ड करने के लिए कहा था। एक ट्वीट में, प्रधानमंत्री ने कहा था, ‘इस महीने की 30 तारीख को, 2022 का पहला ‘मन की बात’ कार्यक्रम होगा।’ पीएम ने कहा था, ‘मुझे यकीन है कि आपके पास प्रेरक जीवन की कहानियों और विषयों के संदर्भ में साझा करने के लिए बहुत कुछ है। उन्हें MyGov.in या नमो ऐप पर साझा करें। साथ ही 1800-11-7800 डायल करके अपना संदेश रिकॉर्ड करें।”

आपको बता दें, 26 दिसंबर 2021 को पीएम ने आखिरी बार मन की बात के जरिये देशवासियों को सम्बोधित किया था। इस सम्बोधन में उन्होंने कोरोना वायरस समेत कई विषयों पर बात की थी। पीएम मोदी का यह कार्यक्रम ‘मन की बात’ हर महीने की आखिरी रविवार को होता है।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.