दो वर्ष बाद हो रहे डिग्री कॉलेजों में छात्रसंघ चुनाव को लेकर सक्रिय हुए टिकट के दावेदार

दो वर्ष बाद हो रहे डिग्री कॉलेजों में छात्रसंघ चुनाव को लेकर सक्रिय हुए टिकट के दावेदार

देहरादून:- डिग्री कॉलेजों में दो वर्ष बाद हो रहे छात्रसंघ चुनाव की तिथि घोषित होने के बाद टिकट के दावेदार भी सक्रिय हो गए हैं। डीएवी पीजी कॉलेज में भी एबीवीपी, एनएसयूआई, एबीवीपी से अलग हुआ बागी गुट, सत्यम शिवम सुंदरम और आर्यन संगठन से टिकट की दावेदारी कर रहे छात्रों ने जोर-शोर से प्रचार अभियान शुरू कर दिया है।

एबीवीपी से जहां अध्यक्ष पद के लिए दयाल बिष्ट, गौरव तोमर टिकट की रेस में हैं। वहीं, एनएसयूआई से तीन, सत्यम शिवम सुंदरम से तीन और एबीवीपी के लिए बड़ी चुनौती बने हुए बागी गुट से सुमित कुमार और हनी सिसोदिया भी अध्यक्ष पद की दावेदारी कर रहे हैं। हालांकि, इनके लिए यह परीक्षा आसान नहीं होने वाली है। एक तरफ योग्यता और आपराधिक मुकदमे की परीक्षा में इन्हें पास होना है तो दूसरी ओर गुटबाजी से भी पार पाना है।

अभी किसी भी संगठन ने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है। सूत्रों से पता चला है कि बगावत को देखते हुए प्रमुख संगठन देरी से उम्मीदवारों की लिस्ट जारी करेंगे। एनएसयूआई के जिला अध्यक्ष सौरभ ममगाईं ने बताया कि संगठन ने चुनाव की तिथि घोषित होते ही एक ईमेल आईडी जारी कर दी है।

जिस पर सभी कॉलेजों में एनएसयूआई से टिकट के दावेदारों के आवेदन मांगे हैं। इसके बाद कमेटी ही उम्मीदवारों के नाम घोषित करेगी। उन्होंने कहा कि डीएवी कॉलेज में उम्मीदवार थोड़ी देरी से घोषित किए जाएंगे। अन्य महाविद्यालयों में एक सप्ताह के भीतर नाम घोषित कर दिए जाएंगे।

एबीवीपी के डीएवी कॉलेज से आ चुके हैं दो आवेदन
एबीवीपी के विभाग संगठन मंत्री नागेंद्र बिष्ट ने डीएवी पीजी कॉलेज की इकाई से दो आवेदन आ चुके हैं। कहा कि संगठन पैनल में लड़ेगा या एक उम्मीदवार को लड़ाएगा। इसका अभी फैसला किया जाना है। कहा कि हमारे किसी भी कार्यकर्ता पर आपराधिक मुकदमा नहीं है।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *