उत्तराखंड सहकारी डेयरी फेडरेशन (यूसीडीएफ) आंचल दूध के दाम बढ़ाने की तैयारी कर रहा है

उत्तराखंड सहकारी डेयरी फेडरेशन (यूसीडीएफ) आंचल दूध के दाम बढ़ाने की तैयारी कर रहा है

देहरादून: मदर डेयरी (Mother Dairy) और अमूल (Amul) के बाद अब उत्तराखंड सहकारी डेयरी फेडरेशन (यूसीडीएफ) Uttarakhand Cooperative Dairy Federation (UCDF) भी आंचल दूध के दाम बढ़ाने की तैयारी कर रहा है। इससे दूध से बनने वाले अन्य पदार्थ भी महंगे हो जाएंगे। हालांकि अंतिम निर्णय पशुपालन एवं दुग्ध विकास मंत्री सौरभ बहुगुणा की अध्यक्षता में गुरुवार को देहरादून में होने वाली बैठक में लिया जाएगा।

बताया जा रहा है कि बैठक में दुग्ध संघों की ओर से खरीद मूल्य में भी दो रुपये का इजाफा करने का प्रस्ताव रखा जाएगा, जिसका लाभ काश्तकारों को मिलेगा। यूसीडीएफ ने मार्च में आंचल दूध की कीमतों में दो रुपये प्रति लीटर बढ़ाई थी। इसके बाद से बाजार में स्टैंडर्ड दूध (Standard Milk) 50 और फुल क्रीम (full cream) 60 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है।

इस बीच सरकार ने दूध से बने पदार्थों पर जीएसटी लागू कर दिया। इसके बाद मदर डेयरी और अमूल ने करीब एक सप्ताह पूर्व दूध के दाम बढ़ा दिए थे। अब आंचल ने भी दूध की कीमतों में दो रुपये का इजाफा करने की तैयारी में है। यूसीडीएफ (UCDF) से प्रदेश भर के 50 हजार किसान परिवार जुड़े हैं। प्रदेश की 4350 समितियों में रोजाना करीब 1.65 लाख लीटर दूध एकत्र होता है।

दुग्ध संघ की ओर से समितियों में दूध की कीमत गुणवत्ता के आधार पर तय की जाती है। उच्चतम खरीद मूल्य 6.5 फैट और 9.8 एसएनएफ पर 39 रुपये तय किया गया है। अधिकांश दुग्ध उत्पादकों को समितियों से दूध का दाम 30 से 35 रुपये प्रति लीटर मिल पाता है। वही दुग्ध संघ बाजार में 50 से 60 रुपये प्रतिलीटर के हिसाब से बिक्री करता है।

दुग्ध विकास मंत्री की अध्यक्षता में आगामी 25 अगस्त को होने वाली बैठक में दूध बिक्री के दाम बढ़ाने पर निर्णय लिया जा सकता है। दुग्ध संघ की ओर से खरीद कीमतों के दाम बढ़ाने पर भी विचार किया जा रहा है, जिससे काश्तकारों को लाभ मिल सके।

News Glint

Leave a Reply

Your email address will not be published.