महिला सशक्तिकरण व बाल विकास मंत्री रेखा आर्या ने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों की इस बड़ी मांग पर लगाई मुहर

महिला सशक्तिकरण व बाल विकास मंत्री रेखा आर्या ने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों की इस बड़ी मांग पर लगाई मुहर

देहरादून:- उत्तराखंड की महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्या द्वारा महिला एवं बाल विभाग के अंतर्गत महालक्ष्मी योजना, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के मानदेय वृद्धि इत्यादि के संबंध में विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की गई।

मंत्री ने कहा कि आंगनवाड़ी बहनों का मुख्य बिन्दु मानदेय से संबंधित रहा है जिस पर विभाग द्वारा सकारात्मक पहल करते हुए लगभग सभी जिलों में मानदेय का भुगतान किया गया है। उन्होंने कहा कि कुछ जनपदों में खातों से संबंधित शिकायत होने के कारण मानदेय का भुगतान नहीं हो पाया है उसके निस्तारण हेतु अधिकारियों को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबंधित अधिकारियों को अवगत कराने हेतु निर्देशित किया गया है।

मंत्री ने कहा कि हमें खुशी है कि माह अक्टूबर 2022 का मानदेय दीपावली से पहले ही आंगनवाड़ी बहनों को वितरित किया गया। उन्होंने कहा कि आंगनवाड़ी बहनों को दीपावली की बोनस राशि का भुगतान भी समय पर किया जा चुका है। मंत्री ने आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों की विभिन्न मांगों पर संज्ञान लेते हुए कहा कि आंगनवाड़ी बहनों की मांगों का विभाग द्वारा ससमय निस्तारण करना हमारी प्राथमिकता है। मंत्री ने कहा कि मिनी आंगनवाड़ी केन्द्रों के उच्चीकरण हेतु हमारी सरकार प्रयासरत है, जल्द ही भारत सरकार से इस हेतु चर्चा की जायेगी।

मंत्री ने कहा कि आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों का सुपरवाईजर पद पर पदोन्नति के लिए विभाग के अधिकारियों द्वारा जल्द ही प्रस्ताव जारी किया जायेगा। मंत्री ने सचिव महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास को निर्देश देते हुए कहा कि आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों को अन्य विभागों जैसे निर्वाचन, जनगणना तथा सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु जिला अधिकारी एवं सीडीओ के स्तर से ड्यूटी पर लगाये जाने के लिए निर्देशित किया जायेगा।

इस अवसर पर बैठक में सचिव महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास हरि चन्द्र सेमवाल, अपर निदेशक महिला कल्याण बी.के. मिश्रा, उपनिदेशक डॉ एस.के. सिंह विभिन्न जिलों के आंगनवाड़ी पदाधिकारी तथा अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *