आगामी श्री केदारनाथ यात्रा के दृष्टिगत गौरीकुण्ड में स्थानीय निवासियों के साथ की गयी समन्वय बैठक

आगामी श्री केदारनाथ यात्रा के दृष्टिगत गौरीकुण्ड में स्थानीय निवासियों के साथ की गयी समन्वय बैठक

रुद्रप्रयाग:- जनपद रुद्रप्रयाग में स्थित श्री केदारनाथ के कपाट खुलने की तिथि आगामी 06 मई 2022 की निश्चित हुई है। जनपद में होने वाली चारधाम यात्रा को सकुशल सम्पन्न कराये जाने तथा आवश्यक कार्ययोजना को धरातल पर लाये जाने के उद्देश्य से प्रभारी निरीक्षक कोतवाली सोनप्रयाग श्री योगेन्द्र सिंह गुसाईं की अध्यक्षता में गौरीकुण्ड में निवासरत व्यक्तियों एवं व्यापारियों के साथ एक समन्वय गोष्ठी का आयोजन किया गया। स्थान गौरीकुण्ड जनपद में होने वाली श्री केदारनाथ की पैदल यात्रा का एक महत्तवपूर्ण पड़ाव है, यहां तक तो हर कोई किसी न किसी प्रकार के वाहनों के माध्यम से पहुंच ही जाता है, परन्तु किसी भी श्रद्वालु की असल परीक्षा यहां से प्रारम्भ होती है। यहां से श्री केदारनाथ धाम की दूरी तकरीबन 16 किमी है, जहां पहुंचने हेतु पहला विकल्प पैदल चढ़ाई करना ही है, इसके इतर अन्य विकल्पों में घोड़े-खच्चर, डण्डी-कण्डी, पिट्ठू इत्यादि हैं।चूंकि इस स्थान से ही श्री केदारनाथ यात्रा हेतु आये श्रद्वालुओं को किसी न किसी माध्यम से आगे बढ़ना होता है, जिस कारण अत्यधिक संख्या में श्रद्वालुओं के आगमन पर भीड़ नियंत्रण, यातायात प्रबन्धन एवं अन्य चुनौतियों से जरूर दो-चार होना पड़ता है। इन चुनौतियों से पार पाने में असल मदद स्थानीय लोगों से ही प्राप्त हो पाती है। हालांकि विगत के 02 वर्षों में कोरोना महामारी के चलते यात्रा पर भी काफी असर पड़ा है, परन्तु इस बार यात्रा के सुचारु रूप से चलने के आसार हैं। यात्रा के दौरान आने वाली चुनौतियों से निपटने हेतु आज हुई समन्वय गोष्ठी में आपसी चर्चा की गयी तथा लोगों से सुझाव भी प्राप्त किये गये, इन सुझावों को प्रभारी निरीक्षक कोतवाली सोनप्रयाग के स्तर से आवश्यक कार्यवाही किये जाने का भरोसा दिया गया।

इस अवसर पर उपस्थित स्थानीय जनमानस एवं व्यापारियों से विगत के वर्षों की भांति यात्रा संचालन अवधि में पुलिस प्रशासन का सहयोग दिये जाने की अपील की गयी।अब गोष्ठी तो यात्रा व्यवस्थाओं में सहयोग से सम्बन्धित थी, परन्तु जब पुलिस द्वारा बैठक ली जा रही हो और अपराध एवं कानून व्यवस्था के मुद्दों पर चर्चा न हो ऐसा होना सम्भव भी नहीं। उपस्थित सभी लोगों के वर्तमान के महाविध्वंसकारी अपराध यानि साइबर अपराध के बारे में जागरुक किया गया साथ ही बताया गया कि, साइबर अपराध होने पर तुरन्त 1930 नम्बर पर कॉल करनी है, जहां से आवश्यक मार्गदर्शन प्राप्त होगा। इसी प्रकार से महिला सम्बन्धी एवं अन्य किसी भी प्रकार के अपराध की शिकायत 112 पर करें, बाकी यह भी अवगत कराया गया कि, हमारी चौकी भी गौरीकुण्ड कस्बे से दूर नहीं। किसी भी प्रकार की शिकायत तत्काल चौकी गौरीकुण्ड या कोतवाली सोनप्रयाग पर भी की जा सकती है। इस अवसर पर उपस्थित व्यक्तियों को प्रभारी निरीक्षक कोतवाली सोनप्रयाग, चौकी प्रभारी गौरीकुण्ड इत्यादि के मोबाइल नम्बर भी साझा किये गये। समन्वय गोष्ठी अवसर पर चौकी प्रभारी गौरीकुण्ड ललित मोहन भट्ट, वरिष्ठ उपनिरीक्षक कोतवाली सोनप्रयाग प्रदीप कुमार सहित स्थानीय व्यक्ति एवं व्यापारीगण उपस्थित रहे।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.