शिक्षक की भूमिका में बंशीधर तिवारी, बोले हाथ, दिल और दिमाग से करें काम

शिक्षक की भूमिका में बंशीधर तिवारी, बोले हाथ, दिल और दिमाग से करें काम

देहरादून: सूचना महानिदेशक, शिक्षा महानिदेशक सहित कई अन्य महत्वपूर्ण महकमों की जिम्मेदारी संभाल रहे बंशीधर तिवारी उन चंद अफसरों में से हैं जो बिना लाग लपेट के खरा-खरा बोलते हैं।

सूचना विभाग के एक कार्यक्रम में उन्होंने अफसरों और कर्मचारियों को सीख दी है कि वह निष्ठा और समर्पण भाव से जनहित के कार्य करें। उनके अनुसार जब तक हाथ, दिल और दिमाग में समन्वय नहीं होगा तो कार्यों को गति नहीं मिलेगी। तीनों के समन्वय से ही शरीर को ऊर्जा मिलेगी और काम को गति।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *