दून पुलिस ने खड़े किए 70 से अधिक ईरिक्शा, रिक्शे सील होने से दिन भर परेशान रहे वाहन स्वामी

दून पुलिस ने खड़े किए 70 से अधिक ईरिक्शा, रिक्शे सील होने से दिन भर परेशान रहे वाहन स्वामी

देहरादून:- देहरादून की यातायात व्यवस्था में एक मैं महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले ई-रिक्शा स्वामी इन दिनों संकट के दौर से गुजर रहे हैं. देहरादून पुलिस ने आज दिन भर ई-रिक्शा संचालन के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 70 से अधिक ईरिक्शा अलग-अलग थाना क्षेत्र में खड़े कर दिए। यातायात पुलिस की इस कार्रवाई से ई-रिक्शा स्वामी की आज पूरे दिन भर कमाई नहीं हो पाई. पुलिस में कई स्थानों पर सवार यू से भरे ईरिक्शा को भी रुकवा कर उन्हें बंद कर दिया। रिशु का संचालन बन होने से इनमें नियमित और पर सफर करने वाली सवारी स्कूली बच्चों को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा.बताया जा रहा है कि इनमें से कई रिक्शे ऐसे भी है जो अवैध तरीके से चल रहे हैं और ना तो इनमें से अधिकांश के पास परमिट है और ना ही तो वैध दस्तावेज।

यातायात पुलिस की इस कार्रवाई में ऐसे वहां स्वामी भी चपेट में आ गए जो सही तरीके से इसका संचालन कर रहे हैं और उन्हें आज दिन भर पुलिस की इस कार्रवाई के कारण सवारी ओर से वंचित रहना पड़ा। यातायात पुलिस की इस कार्रवाई के विरोध में ई-रिक्शा स्वामी एवं संचालक में काफी नाराजगी भी नजर आई उनका कहना था कि यदि ई-रिक्शा शहर में चलने ही नहीं देने हैं तो देहरादून में खुली ई-रिक्शा की सभी एजेंसी एवं शोरुम को भी तत्काल बंद कर दिया जाए।

अपनी परेशानियों का बखान करते एक वाहन स्वामी ने कहा कि अधिकांश ईरिक्शा स्वामी विभिन्न कंपनी एवं बैंकों से लोन लेकर गाड़ियां चला रहे हैं, और इस प्रकार से यदि प्रशासन वाहनों को सीज कर रहा है तो ऐसे में ना केवल परिवार पालने का संकट खड़ा हो जाएगा बल्कि प्रतिमाह जमा की जाने वाली वाहन की किस्त चुकानी भी मुश्किल हो जाएगी पूर्व राम
वही बताया जा रहा है कि पुलिस प्रशासन द्वारा ई-रिक्शा चलाने वालों को कहा गया है कि वे रात 8:00 बजे से सुबह 8:00 बजे तक अपने ईरिक्शा चलाएं. पुलिस के इस फरमान से ईरिक्शा स्वामी हैरान हैं।

फिलहाल इस संबंध में वार्ता भी चल रही है और इसका क्या हाल निकलेगा वह भी जल्द ही सामने आ जाएगा, लेकिन फ़िलहाल जो परिस्थितियां ईरिक्शा चलाने वालों के आगे आ खडी हुई है उसके कारण सैकड़ों की संख्या में ई रिक्शा वाहन विभिन्न थानों और सड़कों में खड़े हो गए हैं।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.