जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की शुक्रवार को गोलियां लगने के कारण मौत हो गई, भारत में एक दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की शुक्रवार को गोलियां लगने के कारण मौत हो गई, भारत में एक दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित

टोक्यो: जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की शुक्रवार को गोलियां लगने के कारण मौत हो गई है। उनको उस वक्त गोलियां लगी जब वह नारा प्रान्त में एक भीड़ को संबोधित कर रहे थे। पुलिस ने एक संदिग्ध को हिरासत में ले लिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, गोली लगने के बाद उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया था। बताया जा रहा है कि गोली लगने के बाद उन्हें दिल का दौरा पड़ा था और जब अस्पताल ले जाया गया था तो वह कोमा में थे। उनकी हालत नाजुक बनी हुई थी। डॉक्टरों ने उन्हें बचाने की तमाम कोशिशें कीं, लेकिन बचाया नहीं जा सका।

शिंजो आबे पर हुई फायरिंग के बाद कुछ तस्वीरें सामने आई हैं जिससे पता चलता है कि यामागामी तस्तुया चुनावी सभा में पत्रकार के रूप में पहुंचा था। माना जा रहा है कि हमलावर यामागामी ने हथियार को छुपाने के लिए कैमरे का रूप दिया था, और गन पर काले रंग की पॉलिथिन लपेट रखी थी। बता दें, जापान में बंदूक हिंसा की घटनाएं दुर्लभ हैं। यह एक ऐसा देश है, जहां हैंडगन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे पर हुए हमले के बाद व्हाइट हाउस ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री आबे के खिलाफ हिंसक हमले के बारे में सुनकर हम स्तब्ध और दुखी हैं। हम रिपोर्ट की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं। हमारे विचार उनके परिवार और जापान के लोगों के साथ हैं। वहीं, शिंजो आबे के निधन पर पीएम नरेंद्र मोदी ने शोक जताया है और भारत में एक दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.