देहरादून तक जाने वाली चार ट्रेनें 20 मई को रद्द रहेंगी, मोतीचूर यार्ड में पीएनआई और एनआई कार्य के लिए 12 से 20 मई तक ब्लॉक रहेगा,

देहरादून तक जाने वाली चार ट्रेनें 20 मई को रद्द रहेंगी, मोतीचूर यार्ड में पीएनआई और एनआई कार्य के लिए 12 से 20 मई तक ब्लॉक रहेगा,

देहरादून:- मोतीचूर यार्ड में पीएनआई और एनआई कार्य के लिए 12 से 20 मई तक ब्लॉक रहेगा। जिसके चलते देहरादून तक जाने वाली चार ट्रेनें 20 मई को रद्द रहेंगी। जबकि ऋषिकेश जाने वाली छह ट्रेनें 17, 19 और 20 मई के बीच हरिद्वार तक ही आएंगी और यहीं से रवाना होंगी। उत्तर रेलवे मुरादाबाद रेल मंडल के वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक सुधीर सिंह ने बताया कि मोतीचूर स्टेशन के मध्य 20 मई को सुबह 09.30 से शाम चार बजे तक ट्रैफिक व ओएचई ब्लॉक लेकर ब्रिज नंबर 28 पर गार्डर रखने का कार्य किया जाएगा। जबकि आज बृहस्पतिवार से 20 मई तक मोतीचूर यार्ड में पीएनआई व एनआई कार्य के लिए ब्लॉक लेकर मरम्मत कार्य किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि गाड़ी संख्या 12092 काठगोदाम- देहरादून, ट्रेन 12091 देहरादून-काठगोदाम, ट्रेन 04374 देहरादून-सहारनपुर, ट्रेन 04373 सहारनपुर-देहरादून 20 मई को रद्द रहेगी। जबकि ट्रेन संख्या 12017 नई दिल्ली- देहरादून 20 मई को देहरादून के स्थान पर हरिद्वार तक ही आएगी। हरिद्वार से देहरादून के बीच रद्द रहेगी। ट्रेन 19031 अहमदाबाद-योगनगरी ऋषिकेश 19 को योगनगरी ऋषिकेश के स्थान पर हरिद्वार तक ही चलेगी।

योग नगरी ऋषिकेश से हरिद्वार के मध्य रद्द रहेगी ट्रेन, ऋषिकेश से हरिद्वार के मध्य रद्द रहेगी। ट्रेन संख्या 14229 प्रयाग राज संगम-योगनगरी ऋषिकेश 17 और 19 मई को योगनगरी ऋषिकेश की जगह हरिद्वार तक ही आएगी। योग नगरी ऋषिकेश से हरिद्वार के मध्य रद्द रहेगी। गाड़ी संख्या 12018 देहरादून-नई दिल्ली 20 मई को देहरादून की जगह हरिद्वार से नई दिल्ली के लिए चलाई जाएगी।

देहरादून से हरिद्वार के बीच रद्द रहेगी। गाड़ी संख्या 19032 योग नगरी ऋषिकेश-अहमदाबाद 20 मई को योग नगरी ऋषिकेश के स्थान पर हरिद्वार से अहमदाबाद के लिए चलेगी। योगनगरी ऋषिकेश से हरिद्वार के बीच रद्द रहेगी। गाड़ी संख्या 14230 योग नगरी ऋषिकेश-प्रयागराज संगम 18 और 20 मई को योग नगरी ऋषिकेश के स्थान पर हरिद्वार से प्रयाग राज संगम के लिए चलेगी। योगनगरी ऋषिकेश में हरिद्वार के मध्य रद्द रहेगी।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.