उत्तराखंड में आज केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि “जब कांग्रेस की सरकारें थी तब मनी ऑर्डर की राजनीति चलती थी।”

उत्तराखंड में आज केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि “जब कांग्रेस की सरकारें थी तब मनी ऑर्डर की राजनीति चलती थी।”

उत्तराखंड: विधानसभा चुनावो को लेकर आज केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह सहसपुर, रायपुर, धनौल्टी पहुंचे। अमित शाह ने कहा कि मुझे याद है कि जब अलग राज्य का संघर्ष चल रहा था तब कांग्रेस पार्टी का स्टैंड क्या था, वे देवभूमि के पक्ष में नहीं थे। उस समय सिर्फ भाजपा ऐसी पार्टी थी जो कहती थी कि उत्तराखंड की रचना करनी चाहिए। अमित शाह ने कहा कि अटल जी ने बड़ा साहस करके बिना विवाद के उत्तराखंड की रचना की और आज अपना उत्तराखंड एक स्वतंत्र राज्य के रूप में देश के बीच में विद्यमान है। आज जब कांग्रेस पार्टी के नेता वोट मांगने आए तो देवभूमि के वासियों ये जरूर पूछना कि रामपुर तिराहे पर हमारे बच्चों पर गोलियां किसने चलाईं। यहीं कांग्रेस और उनके साथी सपा-बसपा थे जो देवभूमि को बनने नहीं देते थे।

अमित शाह ने कहा कि अभी-अभी हरीश रावत जी ने यहां पर कहा है कि हम यहां उत्तराखंड में एक मुस्लिम यूनिवर्सिटी बनाएंगे। ये तुष्टिकरण की राजनीति कांग्रेस पार्टी ने शुरू की है और उत्तराखंड के पहाड़ों पर रोहिंग्या को घुसाने का काम ये लोग कर रहे हैं। कांग्रेस ने उत्तराखंड में चार धाम, चार काम का नारा दिया है, आज प्रियंका जी यहां आने वाली हैं। मैं उनको पूछना चाहता हूं, कि प्रियंका बहन आपकी तो चौथी पीढ़ी है, हर पीढ़ी में एक-एक काम करते तो हमारे लिए कोई काम नहीं बचता। फिर आप लोगों ने 70 साल तक काम क्यों नहीं किया?

अमित शाह ने कहा कि जब कोरोना महामारी आयी तो राहुल गांधी करते थे कि टीका मत लगाना, ये मोदी जी का टीका है। बाद में डरकर उन्होंने भी टीका लगवा लिया। अगर उनकी सुनकर आपने टीका न लगाया होता, तो क्या आप तीसरी लहर में सुरक्षित रह पाते? उत्तराखंड में जब कांग्रेस की सरकारें थी तब मनी ऑर्डर की राजनीति चलती थी। मैं आपको कहने आया हूं कि ये पांच साल में हमने उत्तराखंड के विकास की नींव डालने का काम किया है, एक और पांच साल भाजपा की सरकार को दे दीजिए हम आत्मनिर्भर उत्तराखंड बनाने का काम करेंगे।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.