रायपुर मालदेवता क्षेत्र में सक्रिय तेंदुए को आखिर आज ग्रामीणों ने ही दबोच लिया, रायपुर क्षेत्र में लंबे समय से सक्रिय था तेंदुआ

रायपुर मालदेवता क्षेत्र में सक्रिय तेंदुए को आखिर आज ग्रामीणों ने ही दबोच लिया, रायपुर क्षेत्र में लंबे समय से सक्रिय था तेंदुआ

देहरादून:- रायपुर मालदेवता व आसपास के क्षेत्र में सक्रिय तेंदुए को आखिर आज ग्रामीणों ने ही दबोच लिया। असल में तेंदुआ शमशेरगढ़ के एक घर की गौशाला में घुसा स्थानीय लोगों को इसकी भनक लग गई और उन्होंने गौशाला का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया। वन विभाग को सूचना दी गई तो विभाग की टीम ने आकर ट्रेंकुलाइजर से तेंदुए को बेहोश किया एवं उसे पिंजरे में पकड़ कर ले गए।

रायपुर एवं इसके आसपास के क्षेत्र में पिछले 2 महीनों से एक तेंदुआ काफी सक्रिय था हालांकि इसके द्वारा किसी मानव पर हमला नहीं किया गया लेकिन इसकी आवाजाही नियमित तौर पर रायपुर मालदेवता गुजरो वाली रांझावाला एवं आसपास के क्षेत्रों में देखी जा रही थी। तेंदुए के भय के कारण स्थानीय लोग शाम ढलने के साथ ही घरों में कैद हो जाते थे और इसका असर दीपावली पर भी देखने को मिला था। आज तेंदुआ खुद ही अपने जाल में फस गया जब वह गौशाला में शिकार की खोज में शमशेरगढ़ की एक गौशाला में घुस गया जिस पर ग्रामीणों ने उसे अंदर ही बंद कर लिया।

तेंदुए के पकड़े जाने के बाद आप लोगों ने राहत की सांस ली है तो वही क्षेत्र में लोगों की रातों की नींद और दिन का चैन उड़ाने वाले साहब बहादुर को देखने के लिए लोगों का जमावड़ा उमड़ पड़ा। वन विभाग की टीम ने गौशाला के अंदर ही अर्ध मूर्छित अवस्था में पड़े तेंदुए को जाले में लपेटा और उसे उठाकर लोहे के पिंजरे में बंद कर दिया। विभाग द्वारा अब इस तेंदुए को सुरक्षित वन क्षेत्र में छोड़ा जाएगा।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *