पहली मुस्लिम महिला फाइटर पायलट बनेगी मिर्जापुर की सानिया मिर्जा, अवनी चतुर्वेदी को माना अपना आदर्श

पहली मुस्लिम महिला फाइटर पायलट बनेगी मिर्जापुर की सानिया मिर्जा, अवनी चतुर्वेदी को माना अपना आदर्श

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर की बेटी सानिया मिर्जा ने एनडीए की परीक्षा में 148वां रैंक प्राप्त किया हैं। सानिया देहात कोतवाली थाना क्षेत्र के छोटे से गांव जसोवर की रहने वाली हैं। सानिया वायु सेना में भारत की पहली मुस्लिम महिला फाइटर पायलट बनने जा रही है। इससे उनके परिजनों व गांव में खुशी की लहर पाई जा रही है।

सानिया ने मिर्जापुर के गुरु नानक गर्ल्स इंटर कॉलेज से 12वीं की परीक्षा पास की है और यूपी 12वीं बोर्ड में डिस्ट्रिक्ट टॉपर रही हैं। 10 अप्रैल को, वह एनडीए परीक्षा 2022 के लिए बैठी थीं। एग्जाम क्लियर करने के बाद वह अपने इंटरव्यू की तैयारी के लिए अकादमी में शामिल हो गई। रिपोर्ट्स के मुताबिक, सानिया 27 दिसंबर, 2022 को पुणे में एनडीए खडकवासला में शामिल होंगी। पेशे से टीवी मकैनिक सानिया के पिता शाहिद अली ने कहा कि सानिया मिर्जा देश की पहली फाइटर पायलट अवनी चतुर्वेदी को अपना आदर्श मानती है। वह शुरू से ही उनके जैसा बनना चाहती थी सानिया देश की दूसरी ऐसी लडक़ी हैं, जिसे फाइटर पायलट के तौर पर चुना गया है।

वहीं सानिया की मां तबस्सुम मिर्जा ने कहा कि हमारी बेटी ने हमें और पूरे गांव को गौरवान्वित किया है। उसने फाइटर पायलट बनने का सपना पूरा कर अपने गांव की हर लड़कियों को प्रेरित किया है। गौरतलब है कि राष्ट्रीय रक्षा अकादमी 2022 की परीक्षा में पुरुष और महिला के लिए कुल मिलाकर कुल 400 सीटें थीं, जिसमें 19 सीटें महिलाओं के लिए थीं। वहीं इनमें से दो सीटें लड़ाकू पायलटों के लिए आरक्षित थीं। इन्हीं दो सीटों में से एक सानिया मिर्जा ने हासिल कर ली है।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *