नौ दिन बाद गंगनहर से बरामद किए गए यूपी के दो युवकों के शव

नौ दिन बाद गंगनहर से बरामद किए गए यूपी के दो युवकों के शव

रुड़की: यूपी के दो युवकों के शव नौ दिन बाद गंगनहर से बरामद किए गए। बच्चों के शव मोर्चरी में देखकर परिजन फूट फूटकर रोने लगे। जहां लोगों और परिचितों ने बिलखते परिजनों को सांत्वना देकर चुप कराया। सहारनपुर निवासी मोहित आहूजा (31) पुत्र राकेश आहूजा, मोहित सचदेवा (31) पुत्र स्व. दवेता अपने साथियों के साथ कार से रुड़की की ओर घूमने आए थे। आठ फरवरी की सुबह करीब पांच बजे के आसपास युवकों का ग्रुप कार में सवार होकर सोलानी पार्क पहुंचा था। वहां का नजारा देखकर युवकों का ग्रुप सेल्फी ले रहा था। इस दौरान मोहित आहूजा और मोहित सचदेवा का संतुलन बिगड़ गया और वह गंगनहर में डूबने लगे थे।

अन्य साथियों ने मोहित आहूजा और मोहित सचदेवा को बचाने के लिए गंगनहर में छलांग लगाई थी। लेकिन गंगा के तेज बहाव में सभी युवक बहने लगे थे। कांस्टेबल रघुवीर सिंह ने गंगनहर में रस्सी फेंक कर राहगीरों की मदद से रोहित आहूजा पुत्र राकेश आहूजा को सकुशल गंगनहर से बाहर निकाल लिया था। लेकिन मोहित आहूजा और मोहित सचदेवा गंगनहर में डूबकर लापता हो गए थे। सिविल लाइंस इंस्पेक्टर देवेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि मोहित आहूजा का शव लिब्बरहेड़ी गंगनहर से और मोहित सचदेवा का शव आसफनगर झाल से बरामद किया गया है। दोनों युवकों के शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भेजा गया।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.