पीएम ने सीएम के शब्दों पर लगाई मुहर, बोले- माणा अंतिम नहीं देश का पहला गांव

पीएम ने सीएम के शब्दों पर लगाई मुहर, बोले- माणा अंतिम नहीं देश का पहला गांव

देहरादून:- देश के आखिरी गांव के नाम से प्रचलित माणा को आज जब मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अंतिम नहीं अपितु देश का पहला गांव बताकर संबोधित किया तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उनकी इन भावनाओं पर तत्काल मुहर लगाते हुए अपने भाषण में माणा को पहला गांव कहने में देर नहीं लगाई। दरसअल, पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कई बार सीएम के कार्यों की तारीफ करते हुए बता दिया कि पर्वतीय राज्य उत्तराखंड सही हाथों में है।

केदारनाथ एवं बद्रीनाथ धाम के दौरे पर आए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने माणा गांव में आज अपने संबोधन में कई बार प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की पीठ थपथपाई। अपने संबोधन की शुरुआत ही पीएम ने धामी के लिए लोकप्रिय, मृदुभाषी, स्मित जैसे शब्दों के साथ की।

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में दोबारा भाजपा की सरकार बनने के बाद पहली बार किसी जनसभा को संबोधित कर रहा हूं। यह अवसर देने के लिए उन्होंने जनता का आभार प्रकट किया। साथ ही कहा कि उत्तराखंड में आज जिन रोपवे प्रोजेक्ट की आधारशिला रखी गई है उससे ये यात्राएं न केवल सुगम और सरल होंगी बल्कि इतना बड़ा इंफ्रास्ट्रक्चर खड़ा होने से रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में डबल इंजन की सरकार आने से पहले केवल 5 लाख यात्री ही धामों के दर्शनों के लिए आते थे इस बार यहां 45 लाख लोग आए। उन्होंने कहा कि यह दर्शाता है कि उत्तराखंड के विकास के लिए डबल इंजन सरकार सही दिशा में काम कर रही है।

पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना काल में हमने प्राथमिकता पर पहाड़ी राज्यों में कोविड की वैक्सीन को पहुँचाने का कार्य किया। एक बार फिर उत्त्तराखण्ड सरकार और सीएम धामी की तारीफ करते हुए कहा कि सशक्त नेतृत्व के कारण ही पहाड़ के घर-घर मे वैक्सीनेशन संभव हो सका।

इससे पहले पीएम मोदी और सीएम मोदी की केमेस्ट्री केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम भ्रमण के दौरान पैदल चलते हुए चर्चा करते हुए भी नजर आयी। जॉलीग्रांट एयरपोर्ट पर भी सुबह जब पीएम मोदी लैंड हुए तो सीएम धामी का मुस्कुराते हुए चेहरे से अभिवादन स्वीकार किया।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *