आतंकी संगठन तहरीक ए तालिबान ने पाकिस्‍तानी सेना के जवान मारे

पाकिस्तान: आतंकी संगठन तहरीक ए तालिबान अपनी हरकतों भयावह स्थिति पैदा करने की कोशिश में लगे रहते है। हाल ही में संगठन ने एक वीडियो रिलीज किया है जिसमें संगठन के दर्जनों स्‍नापर्स को पाकिस्‍तानी सेना के जवानों पर हमला करते हुए दिखाया गया है। ये वीडियो दक्षिण वजरीस्‍तान और बाजौर जिले का है। यहां पर हाल ही में इस आतंकी संगठन ने कई हमलों को अंजाम दिया है। इस वीडियो में टीटीपी के स्‍नापर्स को एडवांस्‍ड थर्मल नाइट विजन कैमरे के साथ लंबी दूरी की राइफल लिए हुए दिखाया गया है। ये वीडियो अफगानिस्‍तान से लगती पाकिस्‍तानी सीमा पर हुए उस हमले के कुछ दिन बाद रिलीज किया गया है जिसमें पांच पाकिस्‍तानी सेना के जवान मारे गए थे। अफगानिस्‍तान में तालिबान द्वारा कब्‍जा किए जाने और सरकार बनाए जाने के बाद टीटीपी का इस तरह का ये दूसरा हमला है।

पाकिस्‍तान में खैबर पख्‍तूंख्‍वां के रिपोर्टर इंशाअल्‍लाह टीपू महसूद का कहना है कि वीडियो में स्‍नापर्स लान्‍ग रेंज राइफल्‍स और रात में देखने के लिए आधुनिक कैमरे के साथ दिखाई दिए हैं। बता दें कि पिछले वर्ष ही पाकिस्‍तान की सरकार और टीटीपी के बीच सीजफायर को लेकर एक समझौता हुआ था। लेकिन बाद में टीटीपी ने सरकार पर समझौते की शर्तों को पूरा न करने का आरोप लगाते हुए एकतरफा रूप से इसको तोड़ दिया था। दिसंबर में तोड़े गए समझौते से पाकिस्‍तान सरकार भी चिंता में आ गई थी। इसकी वजह से तालिबान को भी काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था और उस पर दबाव भी बढ़ा था।

गौरतलब है कि टीटीपी पहले भी कई बार पाकिस्‍तान में बड़े आतंकी हमलों को अंजाम दे चुका है। पाकिस्‍तान के आर्मी स्‍कूल में हुआ चर्चित नरसंहार के पीछे भी इसी संगठन का हाथ था। इमरान सरकार और टीटीपी के बीच पिछले वर्ष हुई जुगलबंंदी से यहां की आम जनता काफी गुस्‍से में थी। टीटीपी से प्रतिबंध हटाने को लेकर नेताओं ने भी इमरान खान को आड़े हाथों लिया था।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.