उत्तराखंड के अनुराग रमोला को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्रीय बाल पुरस्कार अवार्ड से नवाजा, टिहरी गढ़वाल के रहने वाले हैं अनुराग

उत्तराखंड के अनुराग रमोला को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्रीय बाल पुरस्कार अवार्ड से नवाजा, टिहरी गढ़वाल के रहने वाले हैं अनुराग

देहरादून: केंद्रीय विद्यालय ओएनजीसी के 11वीं कक्षा के छात्र अनुराग रमोला को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार अवार्ड से नवाजेा। कला और संस्कृति में पेंटिंग के लिए अनुराग का नाम इस अवार्ड के लिए बीते वर्ष चयनित किया गया था, लेकिन कोरोना की वजह से इस वर्ष अवार्ड दिया गया। पीएम मोदी ने अनुराग सहित देशभर के चयनित बच्चों से आनलाइन संवाद भी किया।

प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार के विजेताओं से वर्चुअली संवाद में अनुराग कचहरी स्थित एनआइसी बिल्डिंग में पिता चौत सिंह रमोला और महिला और बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी अखिलेश मिश्र के साथ पहुंचे और कार्यक्रम से जुड़े। अनुराग को कला और संस्कृति में पेटिंग के क्षेत्र में यह पुरस्कार दिया गया।

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने 2020 में आनलाइन आवेदन मांगे थे। जिसमें वर्ष 2021 में विभिन्न क्षेत्रों में छात्रों ने आवेदन कर अपने प्रोजेक्ट मंत्रालय को भेजे गए थे, जिसमें 16 वर्षीय अनुराग का चयन देशभर में पेंटिंग के लिए किया गया था। कोरोना के चलते बीते वर्ष के विजेताओं को वर्ष 2022 में पुरस्कृत करने की घोषणा हुई। पर, इस बार भी कोरोना के बढ़ते संक्रमण से कार्यक्रम को वर्चुअल किया गया, जिसमें 21 राज्यों के 29 विजेताओं को डिजिटल सर्टिफिकेट देकर पुरस्कृत किया गया। इधर, अनुराग को पुरस्कार मिलने से विद्यालय स्टाफ और छात्र-छात्राओं ने भी खुशी जताई। अनुराग ने पर्यावरण के खतरे को लेकर पेंटिंग बनाई थी। मंत्रालय की ओर से उत्तराखंड महिला एवं बाल विकास विभाग के सचिव एचसी सेमवाल को पत्र लिखकर अनुराग के चयन की जानकारी दी गई थी।

टिहरी गढ़वाल के रहने वाले हैं अनुराग

अनुराग मूल रूप से रमोला मूल रूप से उत्तराखंड के टिहरी जिले के प्रतापनगर के रहने वाले हैं। वर्तमान में वह परिवार के साथ देहरादून के चंदर नगर में रहते हैं। अनुराग के पिता चौत सिंह नगर निगम में कार्यरत हैं, जबकि मां सुनीता रमोला गृहणी हैं।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.