मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने अधिकारियों को प्रदेश के सभी नशामुक्ति और मानसिक स्वास्थ्य (de-addiction and mental health) पुनर्वास केंद्रों (rehabilitation centers) का दौरा करने के दिए निर्देश

मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने अधिकारियों को प्रदेश के सभी नशामुक्ति और मानसिक स्वास्थ्य (de-addiction and mental health) पुनर्वास केंद्रों (rehabilitation centers) का दौरा करने के दिए निर्देश

देहरादून: मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने सचिवालय में राज्य में नशामुक्ति और मानसिक स्वास्थ्य (de-addiction and mental health) देखभाल के क्षेत्र में राज्य सरकार की ओर से किए जा रहे प्रयासों की समीक्षा की। मुख्य सचिव ने अधिकारियों को प्रदेश के सभी नशामुक्ति और मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास केंद्रों (rehabilitation centers) का दौरा करने के निर्देश दिए, साथ ही कहा कि जो नशामुक्ति केंद्र अच्छा कार्य कर रहे हैं, उन्हें सहयोग प्रदान किया जाए।

मुख्य सचिव ने कहा कि मेंटल हेल्थ केयर सेंटर सेलाकुई (Mental Health Care Center Selakui) को और मजबूत किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने परिचरों हेतु 5 कमरों की व्यवस्था के साथ ही 10 डोरमेट्री की व्यवस्था शीघ्र अतिशीघ्र सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने मानसिक स्वास्थ्य से सम्बन्धित समस्याओं के लिए एक डेडीकेटेड हेल्पलाइन नम्बर (Dedicated Helpline Number) भी शुरू किए जाने के निर्देश दिए, कहा कि दूर दराज के लोगों को भी इसकी जानकारी हो इसके लिए इसका प्रचार प्रसार किया जाए। उन्होंने गढ़वाल और कुमाऊं के लिए एक – एक डेडीकेटेड मोबाईल मेंटल हेल्थ केयर वैन शुरू किए जाने के भी निर्देश दिए।

मुख्य सचिव ने कहा कि ऐसे मानसिक स्वास्थ्य रोगी जिनका उपचार अपने घरों में चल रहा है उन्हें नजदीकी उपलब्ध चिकित्सक के पास दवाओं की व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने के प्रयास किए जाएं, ताकि उन्हें दवाओं के लिए सेलाकुई तक न आना पड़े। उन्होंने पुनर्वास केंद्रों (rehabilitation centers) के लिए नई स्कीम तैयार किए जाने के निर्देश दिए। कहा कि सरकारी रिहैबिलिटेशन सेंटर्स में पर्याप्त मात्रा में बेड की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। इसके साथ ही बहुत अच्छा कार्य कर रहे निजी और एनजीओ के माध्यम से चल रहे केंद्रों को सहयोग उपलब्ध कराया जाए।

इस अवसर पर प्रमुख सचिव एल फैनई, सचिव आर राजेश कुमार एवं एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर वी. मुरूगेशन सहित अन्य सम्बन्धित उच्चाधिकारी उपस्थित थे।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.