“प्रोजेक्ट पार्क वैल” के माध्यम से वाहन चालकों को जागरूक करने का प्रयास, वाहन पार्क करने के तरीके बना सकते हैं आपको खास

“प्रोजेक्ट पार्क वैल” के माध्यम से वाहन चालकों को जागरूक करने का प्रयास, वाहन पार्क करने के तरीके बना सकते हैं आपको खास

देहरादून:-  देहरादून में यहां वहां वाहन पार्क करने की प्रवृत्ति को सुधारने की दिशा में कमांडेंट जनरल होमगार्ड केवल खुराना ने एक नई पहल शुरू की है जिसके तहत सही तरीके से पार्किंग करने वाले वाहन चालकों को सम्मानित किया जाएगा। पुलिस महानिरीक्षक/ कमांडेंट जनरल होमगार्ड्स केवल खुराना ने बताया कि होमगार्ड्स एवं नागरिक सुरक्षा मुख्यालय द्वारा आम जनमानस को अपने वाहन को सही ढंग से पार्क किये जाने हेतु प्रोत्साहित एवं जागरूक करने के उददेश्य से एक नयी एवं अनूठी पहल जनपद देहरादून से शुरू की गयी है।

“प्रोजेक्ट पार्क वैल” के अन्तर्गत कोई भी व्यक्ति व्यवस्थित पार्क किये गये अपने वाहन के 50 चित्रों को विभागीय व्हाट्स एप नम्बर 9458950814 पर प्रेषित करेगा, उसे प्रशंसा प्रमाण पत्र दिया जायेगा एवं उसके द्वारा त्रुटिवश किये गये अगले किसी यातायात नियमों के उल्लंघन पर प्रदत्त चालान माफ किया जायेगा। यह योजना उसके परिवार के किसी एक सदस्य हेतु भी लागू होगी। इस प्रकार प्राप्त प्रशंसा प्रमाण-पत्र डिजी लॉकर में संरक्षित किये जा सकेंगे। कोई भी व्यक्ति नो-पार्किंग परिक्षेत्र में लगी गाड़ियों के 50 चित्रों को उपरोक्त व्हाट्स एप नम्बर पर प्रेषित करने पर भी उपरोक्तानुसार चालान माफ किया जायेगा।

कमाण्डेन्ट जनरल होमगार्ड्स केवल खुराना के द्वारा निर्देशित किया गया है। कि उक्त योजना को अधिक आकर्षक और व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये एवं योजना में पार्किंग व्यवस्था सुदृढ़ किये जाने हेतु होमगार्ड्स एवं नागरिक सुरक्षा विभाग के स्वयंसेवकों को अवगत कराया जाये कि वे ट्रैफिक नियंत्रण में तैनाती के दौरान वाहन पार्किंग में बुजुर्ग एवं महिलाओं की सहायता करेंगे तथा पार्क किये वाहनों की फोटो प्रेषित करने में सम्बन्धित व्यक्ति की मदद करेंगे। पार्किंग स्थलों पर निर्धारित पार्किंग शुल्क से अधिक शुल्क न लिये जाने के सम्बन्ध में जागरूक करेंगे।
होमगार्ड्स स्वयंसेवकों की महत्वपूर्ण पार्किंग स्थलों के समीप तैनाती की जाती है, ऐसे पार्किंग स्थलों में लम्बे समय से खड़ी गाड़ियों के सम्बन्ध में सूचित करेंगे।

शुरुवात में योजना को व्हाट्स नम्बर में माध्यम से शुरू किया जा रहा है, उसके उपरान्त योजना को मोबाईल एप्लीकेशन के माध्यम से चलाया जायेगा। एप्लीकशन के माध्यम से चलाने पर आवेदनकर्ता रिकॉर्ड्स को संरक्षित किये जाने एवं योजना बेहतर ढंग से चलाये जाने में मदद करेगी।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.