फिरोजाबाद के बोधाश्रम स्थित गणेश टेंट हाउस के गोदाम में लगी भीषण आग, 17 लाख का माल जलकर राख

फिरोजाबाद के बोधाश्रम स्थित गणेश टेंट हाउस के गोदाम में लगी भीषण आग, 17 लाख का माल जलकर राख

उत्तर प्रदेश: फिरोजाबाद के बोधाश्रम स्थित गणेश टेंट हाउस के गोदाम में मंगलवार सुबह करीब साढ़े तीन बजे शॉर्ट सर्किट से आग लग गई। बुझाने के लिए लिए पीड़ितों की ओर से चार बार 112 नंबर पर फोन मिलाया गया। आश्वासन के बाद भी दमकल टीम नहीं पहुंची तो पीड़ित परिवार का एक शख्स अग्निशमन कार्यालय पहुंचा। इसके बाद टीम सक्रिय हुई। आठ दमकलों ने छह घंटे की कोशिश के बाद आग को काबू किया। इसके लिए तीन स्थानों से छतों को तोड़ना भी पड़ा। थाना उत्तर क्षेत्र के बोधाश्रम रोड निवासी छेत्रपाल का श्री गणेश के नाम से टेंट का कारोबार है। गोदाम बोधाश्रम चौराहा से बोधाश्रम रोड पर करीब पांच सौ मीटर दूरी पर है। मंगलवार सुबह आग लग गई। लपटें गोदाम के बाहर निकलने लगीं तो पड़ोसियों को जानकारी हुई। शोर सुनकर मोहल्ले के लोग जाग गए। गोदाम स्वामी को सूचना देने के साथ ही आग बुझाने की कोशिश शुरू हुई।

पीड़ित ने चार बार किया फोन

पीड़ित गोदाम स्वामी के पुत्र जयकिशन के अनुसार, गोदाम में आग लगने की जानकारी मिलने पर पहली बार चार बजकर तीन मिनट पर 112 नंबर पर सूचना दी थी। आश्वासन के बाद भी न तो दमकल टीम और न ही पुलिस टीम पहुंची। आधे घंटे में चार बाद फोन किया गया। इसी बीच बड़े भाई एक व्यक्ति के साथ बाइक से फायर स्टेशन सूचना देने को पहुंचे। तब कहीं जाकर साढ़े चार बजे के बाद दमकल मौके पर पहुंची।

इधर, क्षेत्रीय लोगों ने गोदाम के बाहर लगे शटर को तोड़ दिया। शटर टूटते ही आग की लपटें सड़क तक आने लगी। दमकल टीम के पहुंचने के बाद आग पर काबू पाने का प्रयास किया गया। आग विकराल थी। इसे देखते हुए शिकोहाबाद, सिरसागंज और टूंडला से भी दमकल टीमों को बुला लिया गया। आग पर काबू पाने के लिए गोदाम की छत को तीन जगह से तोड़ भी दिया गया। तब कहीं जाकर सुबह दस बजे तक आग पर पूरी तरह से काबू पाया जा सका।

पानी के लिए हांफती रहीं दमकल टीमें

आग पर काबू पाने के लिए दमकल टीमों को पानी नहीं मिल सका। चूंकि अग्निशमन विभाग के परिसर में लगा नलकूप पिछले दस दिनों से खराब है। फायर स्टेशन पर पानी की सुविधा न होने के कारण दमकलों को औद्योगिक क्षेत्र जाकर एक फैक्टरी से पानी भरकर लाना पड़ रहा था। जिससे आग पर बुझाने में दिक्कत हो रही थी। वहीं दमकल टीमें पानी के लिए हांफती दिखीं। फायर स्टेशन प्रभारी दुर्गेश कुमार ने बताया कि रात दो बजे से सुबह छह बजे तक कंट्रोल रूम में सिपाही विवेक और प्रदीप की ड्यूटी थी। टेंट गोदाम में आग की सूचना से संबंधित कोई फोन नहीं आया। चार बजकर 16 मिनट पर दो युवक बाइक से सूचना देने फायर स्टेशन आए थे। तब गाड़ी को मौके पर भेजने के साथ ही खुद भी मौके पर पहुंचे थे। आग की वजह शॉर्ट सर्किट प्रतीत हो रही है। करीब 17 लाख रुपये नुकसान आंका गया है।

करीब एक घंटे दहशत में रहे पड़ोसी

करीब साढ़े तीन बजे गोदाम में आग लगने की जानकारी गोदाम के आसपास रहने वाले लोगों को हो गई थी। इस बीच आग बढ़ने के साथ ही गोदाम के समीप रहने वाले लोगों की परेशानियां भी बढ़ती जा रही थी। आग की विकरालता को देखते हुए उनको इस बात का डर सता रहा था कि समय से दमकल नहीं आई तो कहीं उनके घरों को भी आग अपनी चपेट में न ले ले। एसपी सिटी मुकेश चंद्र मिश्र ने बताया कि सूचना पर पीआरवी मौके पर पहुंची थी। फायर विभाग को भी कॉल किया गया था। इस बीच बाइक से फायर विभाग पहुंचे दो युवकों ने आग की जानकारी फायर विभाग के अधिकारियों को दे दी थी।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.