कोरोना कि तीसरी लहर में मृत्यु कम,ना करे लापरवाही – स्वास्थ मंत्रालय

कोरोना कि तीसरी लहर में मृत्यु कम,ना करे लापरवाही – स्वास्थ मंत्रालय

भारत: देश भर में कोरोना अपने पैर पसारते जा रहा है। इसी बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने बताया कि एशिया में पिछले 4 सप्ताह से कोरोना के वैश्विक मामलों में 7.9 प्रतिशत से लगभग 18.4 प्रतिशत की तीव्र वृद्धि देखी जा रही है। भारत में कोरोना के मामलों में भी तेजी से उछाल देखा जा रहा है। साथ ही कहा कि महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, पश्चिम बंगाल, यूपी, गुजरात, ओडिशा, दिल्ली और राजस्थान सक्रिय मामलों के मामले में शीर्ष 10 राज्यों में शामिल हैं। देश में रोजाना आ रहे कोरोना के आंकड़ों पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर की तुलना में तीसरी लहर में सक्रिय मामलों की तुलना में होने वाली मृत्यु बहुत घट गई हैं। दूसरी लहर के दौरान टीकाकरण आबादी 2 प्रतिशत थी, अब तीसरी लहर के दौरान टीकाकरण आबादी 72 प्रतिशत है।

केरल में पाजिटिविटी रेट 32 प्रतिशत है। दिल्ली में पाजिटिविटी रेट 30 प्रतिशत है और उत्तर प्रदेश में 6 प्रतिशत से कुछ अधिक है। देश में 11 राज्य ऐसे हैं जहां 50 हजार से ज्यादा सक्रिय मामले हैं, 13 राज्यों में 10-50 हजार के बीच सक्रिय मामले हैं।राजेश भूषण ने बताया कि वर्तमान में विश्व में कोरोना की चौथी लहर देखी जा रही है, पिछले 1 सप्ताह में प्रतिदिन 29 लाख मामले दर्ज किए गए हैं। पिछले 4 सप्ताह में अफ्रीका में कोविड मामले घट रहे हैं। एशिया में कोविड मामले बढ़े हैं। यूरोप में भी मामले घट रहे हैं।

उन्होंने बताया कि पिछले 4 दिनों में प्रतिदिन कोविड टेस्ट को लगातार बढ़ाया गया है। पिछले 24 घंटों में लगभग 19 लाख टेस्ट किए हैं। महाराष्ट्र में साप्ताहिक पाजिटिविटी रेट 2 प्रतिशत से बढ़कर 22 प्रतिशत हो गई है। कर्नाटक में पाजिटिविटी 4 सप्ताह पहले 0.5 प्रतिशत थी जो अब 15 प्रतिशत हो गई है। साथ ही यह भी कहा की कोरोना के बढ़ते मामलो को नजरअंदाज़ न करे बल्कि जितना हो सके सावधानी बरते।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.