महाराष्ट्र में बर्ड फ्लू का पहला केस मिलने के बाद दहशत फैल गई,15,600 चूजों को खत्म कर दिया गया

महाराष्ट्र में बर्ड फ्लू का पहला केस मिलने के बाद दहशत फैल गई,15,600 चूजों को खत्म कर दिया गया

ठाणे: महाराष्ट्र में बर्ड फ्लू का पहला केस मिलने के बाद दहशत फैल गई है। ठाणे में शहापुर स्थित पोल्ट्री फॉर्म में मुर्गियों की मौते हुई थीं। उनमें बर्ड फ्लू की पुष्टि होते ही जिला प्रशासन सतर्क हो गया है। प्रभावित फॉर्म के आसपास एक किलोमीटर परिक्षेत्र को संक्रमित घोषित किया गया है। आसपास के पोल्ट्री फॉर्मों की सभी मुर्गियों, खाद्य पदार्थों, अंडों को वैज्ञानिक तरीके से नष्ट किए जाने की कवायद शुरू हो गई है। इधर 15,600 चूजों को खत्म कर दिया गया।

निर्देश के बाद आसपास के चिकन विक्रेताओं और ट्रांसपोर्टरों के दिन-प्रतिदिन के संचालन को रोक दिया गया है। जिला पशुपालन उपायुक्त द्वारा क्षेत्र के कुक्कुट पक्षियों को त्वरित कार्रवाई बल के माध्यम से वैज्ञानिक पद्धति से नष्ट करने की प्रक्रिया में तेजी लाने का निर्देश दिया गया है। शहापुर के वेहलोली गांव के पोल्ट्री फॉर्म में कुछ मुर्गियों की मौत हुई थी। उसके बाद उनके नमूने को परीक्षण के लिए पुणे स्थित प्रयोगशाला में भेजा गया था। मुर्गियों की मौत एच5एन1 एवियन इन्फ्लूएंजा (बर्ड फ्लू) से होने की पुष्टि हुई है।

शहापुर में मुर्गियों के बर्ड फ्लू के कारण मृत्यु होने की पुष्टि की गई है। इस घटना के बाद जहां पशुसंवर्धन आयुक्तालय एक्शन मोड पर आ गया है, वहीं मुंबई में भी बीएमसी प्रशासन अलर्ट हो गया है। प्रशासन ने लोगों से अपील है कि चिकन को अच्छे से पकाकर खाएं। वॉर्ड स्तर पर अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में नजर बनाए रखने के लिए भी कहा गया है। पशुसंवर्धन आयुक्तालय ने लोगों से अपील की है कि राज्य में कही भी पक्षियों के मरने घटना होती है या फिर किसी पोल्ट्री फार्म में अचानक मुर्गियों की मृत्यु होती है तो 18002330418 नंबर पर कॉल कर जानकारी दें।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.