Rishikesh news: तीर्थनगरी में सड़कों पर बने गड्ढे हो रहे जानलेवा साबित, आए दिन दुर्घटनाओं को दे रहे दावत

Rishikesh news: तीर्थनगरी में सड़कों पर बने गड्ढे हो रहे जानलेवा साबित, आए दिन दुर्घटनाओं को दे रहे दावत

ऋषिकेश: तीर्थनगरी ऋषिकेश (Pilgrim’s Rishikesh) में पहले ही मार्गों के गड्ढे मुसीबत बने हुए थे, अब वर्षाकाल के बाद यह गड्ढे जानलेवा बन गए हैं। हाईवे हो या शहर के आंतरिक मार्ग, जानलेवा गड्ढों के कारण आए दिन दुर्घटनाएं घट रही हैं। मगर, इसके बावजूद भी जिम्मेदार विभाग इनकी सुध नहीं ले रहे हैं। वहीं सड़कों की खस्ताहाल स्थिति इंटरनेट मीडिया पर भी खूब वायरल हो रही हैं।

इन गड्ढों में गिरकर चोटिल हो रहे दोपहिया सवार

ऋषिकेश-हरिद्वार हाईवे भी गड्ढों से अछूता नहीं है। इसके नेपाली फार्म क्षेत्र तक स्थानों पर बड़े-बड़े गड्ढे बन गए हैं। सबसे बुरी स्थिति श्यामपुर फाटक के पास है। जबकि कालेज तिराहे से पुरानी चुंगी तिराहे के बीच भी कई जगह बड़े गड्ढे बन गए हैं। आए दिन इन गड्ढों में गिरकर दोपहिया सवार चोटिल हो रहे हैं।

फुटपाथ के स्थान पर गहरे गड्ढे

श्यामपुर बाइपास मार्ग की स्थिति भी कोई ठीक नहीं है। इस मार्ग पर गुमानीवाला व अमित ग्राम क्षेत्र में आम आदमी का चलना दूभर हो गया है। यहां बाईपास मार्ग के दोनों ओर फुटपाथ के स्थान पर गहरे गड्ढे बन गए हैं, जिनमें हमेशा पानी भरा रहता है। जबकि इस मार्ग पर वाहनों का अत्याधिक दबाव है। सायं के समय तो यहां सड़क को पार करना भी मुश्किल हो जाता है।

हो चुकी हैं कई जानलेवा दुर्घटना

ऐसे में मार्ग के दोनों ओर गड्ढे होने के कारण कई पैदल व दोपहिया सवार इन गड्ढों में दुर्घटना का शिकार हो चुके हैं। इस मार्ग पर पिछले कुछ समय में कई जानलेवा दुर्घटनाएं भी हो चुकी हैं।

स्थानीय नागरिक इस मार्ग के चौड़ीकरण तथा दोनों ओर फुटपाथ बनाने की लंबे समय से मांग करते आ रहे हैं। मगर, लगातार इस समस्या का संज्ञान लेने वाला कोई नहीं है। मुख्य मार्ग ही नहीं शहर के आंतरिक मार्गों की हालत भी कोई खास नहीं है।

रेलवे स्टेशन से बीआरओ कैंप के पास कई फीट गहरे गड्ढे

सबसे अधिक खतरनाक स्थिति रेलवे स्टेशन से बीआरओ कैंप के मध्य बनी सड़क की बनी हुई है। करीब दो वर्ष पूर्व शिफ्ट की गई इस सड़क का करीब दो सौ मीटर का पैच बुरे हाल में है। यहां कई फीट गहरे गड्ढे बना गए हैं।

सड़क पर कुछ स्थानों पर लोहे की सरिया बाहर उठ गई हैं, जो दुर्घटना का कारण बन रही है। स्थानीय नागरिक रेलवे सहित प्रशासन को कई बार इस संबंध में शिकायत कर चुके हैं। मगर, कोई इसकी सुध नहीं ले रहा है। ऐसे में तीर्थनगरी क्षेत्र में सड़कों पर चलें मगर, संभल कर।

इंटरनेट मीडिया (internet media) पर ट्रोल हो रही तीर्थनगरी की सड़कें

तीर्थनगरी ऋषिकेश में सड़कों की खस्ताहाल स्थिति इंटरनेट मीडिया पर भी खूब वायरल हो रही हैं। फेसबुक, इंस्टाग्राम तथा अन्य प्लेटफार्म पर यूजर इन सड़कों की फोटो और वीडियो शेयर कर अलग-अलग कमेंट कर ट्रोल कर रहे हैं।

कई यूजर इसे ट्रिपल इंजन का नतीजा बता रहे हैं तो कई इसे विकास बताकर मजाक उड़ा रहे हैं। फेसबुक पेज पर गौरव यधुवंशी नाम के एक यूजर ने रेलवे रोड की फोटो शेयर करते हुए लिखा कि ‘राष्ट्रीय भोजन पाचक मार्ग कैसी भी पुरानी से पुरानी बदहजमी हो

उसका सफल इलाज बिना किसी दवा के आइए आप भी इसका लाभ उठाएं…स्थान पुराना रेलवे स्टेशन से लेकर ग्रिफ कैंटीन तक… लोक निर्माण विभाग ऋषिकेश कार्यालय के सामने। इसी तरह अन्य यूजर भी इस तरह के कमेंट कर इस समस्या को खूब ट्रोल कर रहे हैं।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.