कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज की मांग से ब्यूरोक्रेसी में हलचल

कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज की मांग से ब्यूरोक्रेसी में हलचल

देहरादून:- उत्तराखंड सरकार में वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से एक बड़ी मांग की है। सतपाल महाराज ने विधानसभा में पत्रकारों से बातचीत में कहा है कि उन्होंने पहली कैबिनेट बैठक में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से अनुरोध किया है कि आईएएस अफसरों जिसमें सचिव व अपर सचिव स्तर स्तर के लोग होते हैं उनके विभागों को जो मंत्री है उन मंत्रियों को उन अफसरों की कॉन्फिडेंशियल रिपोर्ट लिखने का मौका मिलना चाहिए। पूर्व में नारायण दत्त तिवारी सरकार में यह व्यवस्था थी। जो बाद में खत्म हो गई। इसे दोबारा करना जरूरी है क्योंकि सेना व दूसरे संस्थानों में भी ऐसी व्यवस्था होती है इससे कार्यप्रणाली सुधरती है और कहीं ना कहीं एक व्यवस्था दुरुस्त होती है। हालांकि इस महाराज के बयान से ब्यूरोक्रेसी में हलचल मचना तय है।

कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल व सौरभ बहुगुंणा ने भी किया समर्थन

कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज का कहना है की अन्य राज्यों में इस तरह की व्यवस्था है। इसे उत्तराखंड में दुबारा शुरू किया जाना चाहिए। कैबिनेट मंत्री सौरभ बहुगुणा और प्रेमचंद अग्रवाल ने भी उनकी मांग का समर्थन करते हुए इसे जरूरी बताया। मंत्रियों ने कहा पहली कैबिनेट में इसे मुख्यमंत्री जी के समक्ष रखा गया है वही इस संबध में उचित निर्णय लेंगे। आपको बता दें इसके पीछे की वजह काम में और अधिक पारदर्शिता और ब्यूरोक्रेसी पर नियंत्रण माना जा रहा है। पूर्व में इस तरह के विषय सामने आए हैं जब मंत्रियों की सचिवों के साथ बनी नहीं।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.