फर्जी आधार कार्ड आईडी बनाकर धोखाधड़ी कर महिंद्रा एंड महिंद्रा कंपनी से ऑल्टो कार खरीद कर फरार दो शातिर अभियुक्त गिरफ्तार

फर्जी आधार कार्ड आईडी बनाकर धोखाधड़ी कर महिंद्रा एंड महिंद्रा कंपनी से ऑल्टो कार खरीद कर फरार दो शातिर अभियुक्त गिरफ्तार

देहरादून:- दिनांक 03-10-2021 को वादी शॆरी सय्यद उमर पुत्र अबू बकर खान निवासी बाबूगढ़ कैलाश होटल विकासनगर हाल निवासी ट्रांसपोर्ट नगर देहरादून ने कोतवाली विकासनगर पर लिखित तहरीर दी की आशीष त्यागी निवासी जीवनगढ विकासनगर देहरादून व मनीष शर्मा तथा रामप्रसाद शर्मा नाम के व्यक्तियों द्वारा हमारी कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंस से एक आल्टो कार फाइनेंस कराई गई जिसमें अग्रिम भुगतान ₹80000 किया गया और शेष ₹325000 देने बाकी थे.
कार को सेलाकुई शोरूम से हस्तगत किया गया और उपरोक्त व्यक्तियों द्वारा जब पहली किस्त ही जमा नहीं की गई तो कंपनी की फाइनेंसर द्वारा उक्त व्यक्तियों की तलाश की गई तो आईडी में जो फोटो लगे थे वह फोटो उपरोक्त नाम और पते के व्यक्तियों से मैच नहीं खा रहे थे उक्त धोखाधड़ी के संबंध में कोतवाली विकासनगर पर धोखाधड़ी से संबंधित अभियोग पंजीकृत किया गया बाद विवेचना *घटना स्थल सेलाकुई का होने के कारण उपरोक्त अभियोग की विवेचना उच्च अधिकारी गण के आदेश परदिनांक 05-03-22 को थाना सेलाकुई पर विवेचना हेतु अभियोग स्थानांतरित हुआ जिसको तत्काल अभियोग क्रमांक पर लाकर मुकदमा अपराध संख्या 64 / 22 धारा 420/ 467/ 468/ 471/ 406/ 120b भादवी मैं पंजीकृत कर विवेचना प्रारंभ की गई l

उपरोक्त धोखाधड़ी की घटना का अनावरण करने हेतु आभियुक्तगण की गिरफ्तारी हेतु थाना सेलाकुई से एक पुलिस टीम का गठन किया गयाl  उपरोक्त घटना की विवेचना से प्रकाश में आया कि जो नाम F.I.R मे मनीष शर्मा और रामप्रसाद शर्मा दर्ज कराए गए हैं वह व्यक्ति तो अपने घर पर मौजूद हैं लेकिन उक्त घटनाक्रम इनके द्वारा करना नहीं पाया गया.

उक्त धोखाधड़ी आकाश त्यागी निवासी जीवनगढ़ विकासनगर देहरादून एवं उसके सहयोगी देवेंद्र सिंह पुत्र केहर सिंह निवासी नियर बाला सुंदरी मंदिर कैनाल रोड जीवनगढ़ विकासनगर देहरादून 2- राजीव मलिक पुत्र राजपाल सिंह कनाल रोड बीकानेर वाली गली हरबर्टपुर विकासनगर के द्वारा मनीष शर्मा और रामप्रसाद शर्मा की आईडी लगाकर उस आईडी पर अपने फोटो लगाकर कूट रचित दस्तावेज तैयार कर उक्त घटना करना पाया गया जिस पर पुलिस टीम द्वारा पहले अभियुक्तों को तस्दीक किया गया. कंपनी से फोटो का मिलान किया गया तो उपरोक्त अभियुक्त गण द्वारा फाइनेंस कंपनी से कूट रचित दस्तावेजों के आधार पर अल्टो कार खरीदना और उसके बाद आल्टो कार सहित फरार होना पाया गया जिस पर दिनांक 27-04-22 की रात्रि मैं मुखबिर की सूचना पर अभियुक्त गणों के घर पर दबिश दी गई और अभियुक्त गण देवेंद्र और राजीव मलिक को उपरोक्त धोखाधड़ी की घटना में गिरफ्तार किया गया l घटना का सूत्रधार मुख्य आरोपी आशीष त्यागी निवासी जीवनगढ विकासनगर देहरादून अल्टो कार सहित फरार है जिसकी तलाश की जा रही है!

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *