बजट सत्र से पहले केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की प्रेस वार्ता

बजट सत्र से पहले केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की प्रेस वार्ता

दिल्ली: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ‘महत्वपूर्ण आर्थिक मुद्दे’ पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रही है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का आदेश अंतरिक्ष देवास को लेकर आया। इसके पहले NCLT ने लिक्विडेशन का आदेश जारी किया था। देवास ने इसके बाद सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और उसने NCLT के आदेश को सही ठहराया। कांग्रेस शासन में संसाधनों का दुरुपयोग किया गया। वित्त मंत्री ने कहा कि जब 2005 में यह सौदा हुआ था, तब यूपीए की सरकार थी।

भारत का सबसे बड़ा बीमाकर्ता जीवन बीमा निगम (LIC), इस महीने अपनी प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश (IPO) के प्रमुख डिटेल प्रकाशित कर सकता है और मार्च के मध्य तक सार्वजनिक शेयर जारी करना शुरू कर सकता है। एलआईसी की लिस्टिंग भारत का अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ होना तय है, जिसमें सरकार का लक्ष्य हिस्सेदारी बेचने से 900 अरब रुपये (12.2 अरब डॉलर) जुटाने का है। भारत में जीवन बीमा बाजार में एलआईसी की बहुलांश हिस्सेदारी है और सरकार को उम्मीद है कि आईपीओ से इस वित्तीय वर्ष में घाटे के अंतर को पाटने में मदद मिलेगी।

कोरोना की तीसरी लहर की गंभीर होती चुनौती और पांच राज्यों के चुनावों की सियासी सरगर्मी के बीच संसद का बजट सत्र 31 जनवरी से शुरू होगा और आठ अप्रैल तक चलेगा। साथ ही वर्ष 2022-23 का आम बजट एक फरवरी को पेश किया जाएगा। संसद के दोनों सदनों में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के संयुक्त अभिभाषण के साथ शुरू होने वाले बजट सत्र के दो चरण होंगे। पांच राज्यों के चुनाव में राजनीतिक नेताओं और पार्टियों की व्यस्तता के मद्देनजर बजट सत्र का पहला चरण केवल 12 दिनों तक 31 जनवरी से 11 फरवरी तक ही चलेगा।

राष्ट्रपति के दोनों सदनों में संयुक्त अधिवेशन के बाद पहले ही दिन लोकसभा और राज्यसभा में मौजूदा वित्त वर्ष का आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया जाएगा। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमन एक फरवरी को सुबह 11 बजे लोकसभा में आम बजट पेश करेंगी। देश की महिला वित्तमंत्री के तौर पर निर्मला संसद में लगातार चौथी बार आम बजट पेश करने का रिकार्ड बनाएंगी। मोदी सरकार की दूसरी पारी का भी यह चौथा और 2014 से अब तक लगातार नौंवा आम बजट होगा।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.