सरकार के प्रयासों से नया कीर्तिमान स्थापित करने की ओर अग्रसर है उत्तराखण्ड की चारधाम यात्रा

सरकार के प्रयासों से नया कीर्तिमान स्थापित करने की ओर अग्रसर है उत्तराखण्ड की चारधाम यात्रा

देहरादून:- चारधाम यात्रा को सुरक्षित और सफल बनाने के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अगुवाई में पूरी सरकार लगी हुई है। कारोना काल के बाद खुली इस यात्रा ने तीर्थयात्रियों की संख्या को लेकर अभी तक अपने पुराने सभी रिकार्ड तोड़ दिये हैं। देश-दुनिया से लगातार यात्रियों का चारधाम की यात्रा पा आना जारी है। यात्रियों को किसी प्रकार की असुविधा न हो इसको लेकर धामी सरकार ने व्यापक तैयारियां की हुई हैं। यात्री भी धामी सरकार के द्वारा की गई व्यवस्थाओं से संतुष्ट नजर आ रहे हैं। मानसून के बाद एक बार फिर यात्रियों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है।

चारधाम दर्शनों के लिए आने वाले यात्रियों की लगातार बढ़ रही संख्या को देखते हुए सचिव पर्यटन और उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद के सीईओ सचिन कुर्वे ने उम्मीद जताई है कि इस बार तीर्थयात्रियों की संख्या नया कीर्तिमान स्थापित करेगी। चारधाम तथा हेमकुंड साहिब  में अब तक तैंतीस लाख से अधिक तीर्थयात्री दर्शन कर चुके हैं। जबकि सितंबर माह के लिए  05 लाख से अधिक तीर्थयात्री दर्शन के लिए पंजीकरण करा चुके हैं। केदारनाथ यात्रियों के लिए हेली शटल सेवाएं भी पुनः सामान्य हो गई हैं।

सचिव पर्यटन सचिन कुर्वे ने कहा कि इस वर्ष चार धाम यात्रियों की संख्या एक नया कीर्तिमान स्थापित करने की ओर अग्रसर है। पर्यटन विभाग देवभूमि उत्तराखंड में आने वाले सभी श्रद्धालुओं का हार्दिक स्वागत करता है और उन्हें अधिकतम सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए सर्वथा प्रतिबद्ध है। यात्रियों की सुरक्षा के दृष्टिगत चार धाम यात्रा के लिए ऑनलाइन पंजीकरण को अनिवार्य किया गया है अतः सभी यात्रियों से अनुरोध है कि वे चार धाम यात्रा पोर्टल पर पंजीकरण करने के उपरांत ही यात्रा आरंभ करें।

गौरतलब है कि मानसून के अवसान के साथ ही उत्तराखंड की विश्व प्रसिद्ध चारधाम यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों की संख्या भी बढ़ने लगी है। तीर्थयात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए एक बार फिर सिरसी फाटा तथा गुप्तकाशी से श्री केदारनाथ धाम के लिए हेलीकॉप्टर सेवा उपलब्ध हैं। चारधाम के साथ ही हेमकुंड साहिब में अब तक कुल 33,47,287 तीर्थयात्री दर्शन कर चुके हैं। जिसमें यमुनोत्री में लगभग 4 लाख, गंगोत्री में 5 लाख से अधिक, केदारनाथ में 11 लाख से अधिक, बद्रीनाथ में लगभग 12 लाख और हेमकुंड साहिब में लगभग 2 लाख तीर्थयात्री दर्शन कर चुके हैं। उत्तराखंड सरकार द्वारा केदारनाथ दर्शन के लिए संचालित हेली शटल सेवाओं का अब तक एक लाख से अधिक तीर्थयात्री लाभ ले चुके हैं।

चारधाम यात्रा के लिए ऑनलाईन पंजीकरण अनिवार्य:
बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री धाम की यात्रा करने के लिए तीर्थयात्री और श्रद्धालु पर्यटन विभाग की वेबसाइट http://registrationandtouristcare.uk.gov.in पर ऑनलाइन पंजीकरण करें। वहीं केदारनाथ हेली सेवा हेतु https://heliservices.uk.gov.in पर ऑनलाईन बुकिंग करें।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.