27 साल बाद बंद हो गया दुनिया का सबसे पुराना ब्राउजर, पांच फीसदी भी नहीं करते इस्तेमाल

27 साल बाद बंद हो गया दुनिया का सबसे पुराना ब्राउजर, पांच फीसदी भी नहीं करते इस्तेमाल

सैन फ्रांसिस्को: दुनिया का सबसे पुराना और पॉपुलर वेब ब्राउजर इंटरनेट एक्सप्लोरर अब बंद हो गया है। आज से माइक्रोसॉफ्ट ने इसकी सर्विस बंद कर दी है। कंपनी ने 2021 में इस बात का ऐलान किया था। 1995 में इंटरनेट एक्सप्लोरर को लॉन्च किया गया था। एक वक्त दुनिया में इंटरनेट एक्सप्लोरर वेब ब्राउजर का दबदबा था। इसी वजह से उस वक्त इंटरनेट एक्सप्लोरर के 11 वर्जन लॉन्च किए गए थे। बाद में गूगल क्रोम जैसे कई और ऑप्शन लोगों को मिल गए। जिसके बाद इंटरनेट एक्सप्लोरर वेब ब्राउजर की दुनिया में पिछड़ गया। नतीजन इसको पांच फीसदी लोग ही आज इस्तेमाल करते हैं। इंटरनेट एक्सप्लोरर प्रोजेक्ट को साल 1994 में थॉमस रियरडन ने शुरू किया था।

रिपोर्ट्स की माने तो इंटरनेट एक्सप्लोरर वेब ब्राउजर बनाने में शुरुआती टीम में महज 6 लोग थे। इंटरनेट एक्सप्लोरर के बंद होने का मतलब यह नहीं है कि अब बाजार में माइक्रोसॉफ्ट का कोई ब्राउजर नहीं है। आप इसकी जगह क्रोमियम आधारित माइक्रोसॉफ्ट एज ब्राउजर को इस्तमाल कर सकते हैं जो कि विंडोज और मैकओएस सभी को सपोर्ट करता है। इसे डाउनलोड करके आप लिगेसी वर्जन को रिप्लेस कर सकते हैं। कंपनी ने इसकी स्पीड और परफॉर्मेंस को लेकर बड़े-बड़े दावे किए हैं। इसमें इनबिल्ट प्राइवेसी और सिक्योरिटी मिलेगी।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.