पुष्कर धामी को ही CM बनाने की मांग, छह से ज्यादा विधायक सीट छोड़ने को तैयार

पुष्कर धामी को ही CM बनाने की मांग, छह से ज्यादा विधायक सीट छोड़ने को तैयार

देहरादून:- उत्तराखंड में भाजपा ने सीएम धामी के चेहरे पर विधानसभा चुनाव लड़ा था।जिसमें भाजपा की शानदार वापसी हुई।भाजपा का परचम लहराते पुष्कर सिंह धामी अपना किला बचाने में नाकामयाब रहे, लेकिन अभी भी उनके समर्थन में पार्टी के कई विधायक और नेता खड़े हैं।

धामी के चुनाव हारने के बाद से कयास लगाया जा रहा है कि देवभूमि में किसी और को सीएम बनाया जा सकता है, लेकिन कई पार्टी विधायकों ने पुष्कर धामी के लिए अपना समर्थन जताया है। इतना ही नहीं, उन्होंने धामी के चुनाव लड़ने के लिए अपनी सीट भी छोड़ने की भी बात कही है।पार्टी में कई ऐसे विधायक हैं, जो धामी को एक बार फिर से सीएम बनाना चाहते हैं।रुड़की विधायक प्रदीप बत्रा ने कहा कि यदि राष्ट्रीय नेतृत्व पुष्कर सिंह धामी को मुख्यमंत्री बनाता है तो वो उनके चुनाव लड़ने के लिए रुड़की सीट छोड़ने को तैयार हैं।पुष्कर धामी रुड़की विधानसभा से 20 हजार से अधिक वोटों से जीत हासिल करेंगे।

भाजपा प्रदेश मीडिया ने कहा कि चंपावत विधायक कैलाश गहतोड़ी और कपकोट विधायक सुरेश गड़िया के बाद अब भाजपा के चार और विधायकों ने कार्यवाहक मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के लिए अपनी सीट छोड़ने की पेशकश की है। आधा दर्जन विधायक सीएम के लिए अपनी सीट छोड़ने को तैयार।गौरतलब है कि रामनगर से विधायक दीवान सिंह बिष्ट और काशीपुर से नवनिर्वाचित विधायक त्रिलोक सिंह चीमा की भी पसंद धामी हैं। चीमा का कहना है कि राज्य को धामी जैसा ऊर्जावान और युवा सीएम मिलना चाहिए।

10 मार्च का दिन भारतीय जनता पार्टी के लिए खुशियों से भरा रहा। क्योंकि भाजपा ने 5 राज्यों में से 4 प्रदेशों में पूर्ण बहुमत के साथ शानदार वापसी की है।इसी के साथ ही उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में लगातार दूसरी बार जीत हासिल कर भाजपा ने मिथक को भी तोड़ दिया। हालांकि, इन सबके बीच सीएम पुष्कर सिंह धामी का खटीमा सीट से चुनाव हार जाना सबको चौंकाने वाला रहा।जिसके बाद से सीएम फेस को लेकर चर्चाएं जोर पकड़ने लगी हैं।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *