हरिद्वार ऋषिकेश हाईवे पर कृषि उत्पादन मंडी समिति के बाहर देर रात तीन दुकानों में आग लग गई, देखते ही देखते खाक हुआ लाखो का सामान

हरिद्वार ऋषिकेश हाईवे पर कृषि उत्पादन मंडी समिति के बाहर देर रात तीन दुकानों में आग लग गई, देखते ही देखते खाक हुआ लाखो का सामान

ऋषिकेश: हरिद्वार ऋषिकेश हाईवे पर कृषि उत्पादन मंडी समिति के बाहर देर रात तीन दुकानों में आग लग गई। दुकानदारों की सूचना पर मौके पर पहुंची अग्निशमन विभाग की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद आग बुझाई। लेकिन तब तक दुकानों में रखा लाखों का सामान पूरी तरह से खाक हो गया। जानकारी के अनुसार कोयल ग्रांट तिराहे के पास कृषि उत्पादन मंडी समिति के बाहर एक फल की दुकान में रात करीब 1.15 बजे अचानक आग लग गई। देखते ही देखते दुकानों से आग की बड़ी-बड़ी लपटें उठने लगी। कुछ ही देर में आग ने तीन दुकान को भी चपेट में ले लिया।

अग्निशमन विभाग की टीम भी मौके पर पहुंची

सूचना पर दुकान मालिक भी मौके पर पहुंचा और आग बुझाने का प्रयास किया। इस बीच किसी ने अग्निशमन विभाग को भी सूचित कर दिया। कुछ ही देर में अग्निशमन विभाग की टीम भी मौके पर पहुंची। बड़ी मुश्किल से करीब एक घंटे में अग्निशमन कर्मियों ने आग पर काबू पाया। इस दौरान दुकान में रखा लाखों का सामान खाक हो गया। पीड़ित दुकानदारों ने साजिश के तहत दुकानों में आग लगाए जाने की आशंका जताई है। दुकानदारों ने कहा कि पहले भी कई बार दुकानों में आग लग चुकी है। ऋषिकेश कोतवाल रवि सैनी ने बताया कि पुलिस टीम ने रात को घटनास्थल का निरीक्षण किया था। मामले की जांच की जा रही है।

भतीजे ने सभी दुकानों में आग लगाने की दी थी धमकी

कृषि उत्पादन मंडी समिति के बाहर दुकानों में आग लगने से पहले दुकानदार चाचा भतीजे में जबरदस्त बहस हुई थी। भतीजे ने सभी दुकानों में आग लगाने की धमकी दी थी। इसके बाद अचानक रात में दुकानों में आग लग गई। मामले में फिलहाल पुलिस के शक की सुई भतीजे पर ही है। कोयल ग्रांट तिराहे के पास कृषि उत्पादन मंडी समिति के बाहर दुकानों में आग लगने की यह तीसरी घटना है। पहली बार करीब चार साल पहले और पिछले साल मई महीने में करीब आधा दर्जन फलों की दुकानों में आग लगी थी। इस दौरान दुकानों में रखा सामान भी जलकर खाक हो गया था।

जानकारी के मुताबिक आए दिन दुकानदारों में आपस में विवाद होता रहता है। कई बार विवाद इतना बढ़ जाता है कि मारपीट की नौबत भी आ जाती है। शुक्रवार को भी पान की दुकान लगाने वाले दुकानदार का अपने फल विक्रेता भतीजे से तीखी नोकझोंक हुई थी। विवाद इतना बढ़ा की फल विक्रेता भतीजे ने अपने चाचा को सभी दुकानों में आग लगाने की धमकी दे डाली। इसके बाद देर रात दुकानों में अचानक आग लग गई। कोतवाली पुलिस फल विक्रेता को पूछताछ के लिए कोतवाली बनाने की तैयारी कर रही है।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.