साइबर ठगी के शिकार व्यक्तियों को साइबर सेल चमोली ने पहुंचाई राहत

साइबर ठगी के शिकार व्यक्तियों को साइबर सेल चमोली ने पहुंचाई राहत

चमोली:- साइबर सेल चमोली व वर्चुअल पुलिस थाना द्वारा लगातार साइबर ठगी से बचने के लिए जनता को जागरूक करने के पश्चात भी लोग चेतावनी पर गौर ना कर ठगी के शिकार हो रहे हैं। पुलिस अधीक्षक चमोली श्वेता चौबे द्वारा साइबर अपराधों की रोकथाम हेतु गठित साइबर सेल द्वारा जनपद में साइबर फ्रॉड सम्बन्धी किसी भी शिकायत पर क्षेत्राधिकारी साइबर नताशा सिंह के पर्यवेक्षण में तत्परता से कार्य करते हुए साइबर ठगी का शिकार हुए लोगों के खाते में धनराशि वापस करायी जा रही है।

इसी क्रम में 1- दिनाँक 12/07/2022 को सतेन्द्र सिंह निवासी गोपेश्वर जो लोक निर्माण विभाग में कार्यरत हैं के द्वारा साइबर सेल को जानकारी दी कि उनकी पत्नी को किसी अज्ञात व्यक्ति को कॉल आया जिसके द्वारा स्वंय को स्वास्थ्य विभाग का कर्मचारी बताकर उनका बच्चा होनें पर उन्हें रुपये मिलने हैं जिसके लिए उन्हें अपनी निजी जानकारी साज्ञा करने हेतु कहा गया जिसके पश्चात उनके द्वारा ओटीपी साझा किया गया व उनके साथ ₹ 9,600/- की ठगी हो गयी।

2- दिनाँक 18/07/2022 को खिलाफ राम निवासी जूनीधार पो0 चेपड़ों थाना थराली द्वारा थाना थराली पर आकर शिकायत दर्ज करवायी कि किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा परिचित बनकर खाते में पैंसे भेजने के नाम पर पेटीएम के जरिए 1,12,000/- की धोखाधड़ी कर दी है। थाना थराली द्वारा उक्त शिकायत तत्काल साइबर सेल को प्रेषित की गयी।उक्त दोनों शिकायतों पर साइबर सेल द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए संबंधित कंपनियों से पत्राचार व तकनीकी मदद से उक्त व्यक्तियों के खाते में क्रमश: ₹ 9,600 व ₹ 1,12,000 कुल ₹ 1,21,600/- वापस करवाए गए। शिकायतकर्ताओं द्वारा साइबर सेल का आभार प्रकट करते हुए भविष्य मे ठगों से सचेत रहने एवं अपने परिचित लोगों को भी जागरुक करने का वादा किया।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.