दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया किसने दिया था बीजेपी में आने का ऑफर

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया किसने दिया था बीजेपी में आने का ऑफर

नई दिल्ली:- दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को गुजरात में चुनाव जीतने पर बेहतर और मुफ्त शिक्षा-इलाज की व्यवस्था करने का वादा किया। इस दौरान उन्होंने सीबीआई रेड को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा तो मनीष सिसोदिया ने अपने उस आरोप को दोहराया जिसमें उन्होंने कहा कि बीजेपी से उन्हें ऑफर दिया गया। उनसे जब ऑफर देने वाले का नाम पूछा गया तो उन्होंने सीधा जवाब नहीं देते हुए इशारों में बात कही और भाजपा से ही नाम पूछने को कहा। वहीं, अरविंद केजरीवाल ने मनीष सिसोदिया के लिए भारत रत्न देने की मांग की।

सिसोदिया से जब उनके दावे के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, मेरे लिए भी बहुत शॉकिंग था। मैसेज के दो पार्ट थे कि, एक तो आपके खिलाफ जितने ईडी, सीबीआई के केस चल रहे हैं, इन्हें खत्म कर दिया जाएगा। दूसरा कि आप पार्टी तोड़कर बीजेपी में शामिल हो जाइए, आपको सीएम बना देंगे, क्योंकि हमारे पास कोई सीएम कैंडिडेट नहीं है। मैंने कहा कि ये जितने केस चल रहे हैं, इनकी सच्चाई तो मैं जानता हूं। ये सभी फर्जी हैं। मैं ईमानदार आदमी हूं। मैं केजरीवाल की टीम में इसलिए हूं कि कट्टर ईमानदार हूं। इन फर्जी केसों में कोई दम नहीं है, आप इनसे धमकी तो नहीं दे सकते हैं। रही तो सीएम बनाने की बात तो मेरा सपना सीएम बनना नहीं है। मैं यहां राजनीति में सीएम बनने का ख्वाब लेकर नहीं, बल्कि दिल्ली के हर बच्चे को शानदार शिक्षा देना चाहता हूं, अब चाहता हूं कि पूरे देश के बच्चों को शानदार शिक्षा मिले। यह केजरीवाल जी ही कर सकते हैं। अरविंद जी ही मेरे राजनीतिक गुरु हैं। जब सिसोदिया से पूछा गया कि क्या वह नाम बता सकते हैं तो उन्होंने कहा, जिन्होंने मुझे मैसेज दिया, उन्होंने मुझे कहा का पश्चिम बंगाल में शुवेंदु अधिकारी को हमने जॉइन कराया था, असम में हेमंत बिस्वा सरमा को हमने ही जॉइन कराया था, नारायण राणे, जयंत पांडा को हमने ही जॉइन कराया था। आप पूछ लीजिए उन लोगों से कि उन्हें किसने जॉइन कराया था। यह तो वे (बीजेपी) ही बताएंगे ना, मेरे पास तो उन्होंने वादा किया।

सिसोदिया के लिए केजरीवाल ने मांगा- भारत रत्न
अरविंद केजरीवाल ने कहा, जिस व्यक्ति को पूरे देश की शिक्षा व्यवस्था सौंप देनी चाहिए। जिस व्यक्ति ने 5 साल के अंदर करिश्मा करके दिखा दिया, मौजूदा रवायती पार्टियां जो 70 साल में वह 5 साल में कर दिया, जिस व्यक्ति ने सरकारी स्कूलों को शानदार बना दिया, उस व्यक्ति पर सीबीआई की रेड कराते हो, शर्म नहीं आती। ऐसे व्यक्ति को तो भारत रत्न मिलना चाहिए। प्रधानमंत्री को बुलाना चाहिए, कि जो भी पार्टी हो, पार्टीबाजी थोड़ी करनी है, देश का विकास करना है, मनीष जी बैठिए बताइए कैसे शिक्षा व्यवस्था ठीक करनी है। उन्होंने कहा कि मनीष सिसोदिया पर सीबीआई रेड से राजपूत, ब्राह्मण, बनिए, अमीर, गरीब, महिलाएं, बुजुर्ग सभी नाराज हैं।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.