स्नेहा राणा ने दिखाया कमाल, भारतीय महिलाओं ने पाकिस्तान को दी करारी हार

स्नेहा राणा ने दिखाया कमाल, भारतीय महिलाओं ने पाकिस्तान को दी करारी हार

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने जीत के साथ वनडे वर्ल्ड कप (Women World Cup 2022) का आगाज किया। टीम का पहला मुकाबला पाकिस्तान (India Vs Pakistan) से था। भारत ने इस मैच को 107 रन से अपने नाम किया। पहले खेलते हुए मिताली राज की कप्तानी वाली भारतीय टीम ने 7 विकेट पर 244 रन बनाए। पाक की पारी 137 रन पर सिमट गई। हमारी महिला टीम को अभी तक वनडे में पाकिस्तान के खिलाफ हार नहीं मिली है। सभी 11 मैच को भारत ने अपने नाम किया था। वनडे वर्ल्ड कप में भारत की यह पाकिस्तान पर चौथी जीत है। इससे पहले टीम ने 2009, 2013 और 2017 में पाकिस्तान को हराया था।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत खराब रही। तीसरे ओवर की आखिरी गेंद पर शेफाली वर्मा क्लीन बोल्ड हो गईं। दूसरे विकेट के लिए स्मृति मंधाना और दीप्ति शर्मा के बीच 92 रन की साझेदारी हुई। स्मृति (51) अर्धशतक लगाने के बाद पवेलियन लौटीं। इसके बाद विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हो गया। 18 रन बनाने में टीम की 6 बल्लेबाज पवेलियन लौट गईं।

114 रन पर छठा विकेट गिरने के बाद स्नेह राणा और पूजा वस्त्राकर ने टीम को मुश्किल से निकाला। दोनों ने 7वें विकेट के लिए 122 रनों की साझेदारी बनाई। यह महिला वनडे क्रिकेट में 7वें विकेट की सबसे बड़ी साझेदारी है। डेब्यू मैच खेल रहीं पूजा आखिरी ओवर में 59 गेंद पर 67 रन बनाकर आउट हुईं। स्नेह राणा ने 48 गेंद पर 53 रन बनाए। भारत ने 7 विकेट पर 244 रन बनाए।

पाकिस्तान की महिला टीम ने अभी तक वनडे में इतना पड़ा लक्ष्य हासिल नहीं किया था। टीम की शुरुआत भी धीमी रही। 7 ओवर में टीम का स्कोर 8 रन था। 28 के स्कोर पर टीम को पहला झटका लगा। इसके बाद विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हो गया। टीम की पारी 43वें ओवर में 137 रन पर सिमट गई। भारत के लिए राजेश्वरी गायकवाड़ ने सबसे ज्यादा 4 जबकि अनुभवी झूलन गोस्वामी और स्नेह राणा ने 2-2 विकेट लिए।

मिताली ने की सचिन की बराबरी
सचिन तेंदुलकर और जावेद मियांदाद के बाद भारतीय कप्तान मिताली राज छह विश्व कप खेलने वाली तीसरी क्रिकेटर और पहली महिला क्रिकेटर बन गई। इस मैच में उतरने के साथ ही मिताली ने यह रिकॉर्ड अपने नाम किया। भारत के लिये कई यादगार मैच खेल चुकी 39 वर्ष की मिताली ने पहली बार 2000 में विश्व कप खेला था । इसके बाद 2005, 2009, 2013, 2017 और अब 2022 में इसका हिस्सा बनीं। महिला क्रिकेट में उन्होंने न्यूजीलैंड की डेबी हॉकली और इंग्लैंड की चार्लोट एडवडर्स को पछाड़ा। तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी पांच विश्व कप खेल चुकी हैं । तेंदुलकर ने 1992 से 2011 के बीच छह विश्व कप खेले।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.