3 दिन से डॉली खन्ना का यह स्टॉक लोअर सर्किट में, 15 फीसदी से ज्यादा गिरा

3 दिन से डॉली खन्ना का यह स्टॉक लोअर सर्किट में, 15 फीसदी से ज्यादा गिरा

नई दिल्ली: डॉली खन्ना पोर्टफोलियो स्टॉक के शेयर अजंता सोया के शेयरों ने लगातार तीसरे सत्र में लोअर सर्किट मारा है। पिछले एक हफ्ते में मल्टीबैगर स्टॉक ने 6 में से 3 ट्रेड सेशन में 15 फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखी है। हालांकि, शेयर बाजार के जानकार इस मल्टीबैगर डॉली खन्ना के स्टॉक के स्थिर होने के बाद इसमें वी शेप की रिकवरी की उम्मीद कर रहे हैं।

शार्ट से मध्यम टर्म में 280 रुपए तक पहुंच सकता है

सेकेंडरी मार्केट एक्सपर्ट्स के मुताबिक, पिछले एक महीने में डॉली खन्ना के पोर्टफोलियो शेयर ने हर बड़ी गिरावट के बाद वी शेप रिकवरी दी है और यह फिर से हो सकता है क्योंकि स्टॉक के फंडामेंटल अभी भी इस कमोडिटी स्टॉक के पक्ष में हैं। वे उम्मीद कर रहे हैं कि अजंता सोया के शेयर लगभग 220 रुपए के स्तर पर स्थिर होंगे, जहां कोई भी 280 रुपए के शार्ट से मध्यम टर्म के लक्ष्य के लिए खरीद शुरू कर सकता है। हालांकि उन्होंने पोजि़शनल निवेशकों को शेयरों में लंबी अवधि की स्थिति से बचने की सख्त सलाह दी।

180 रुपए पर स्टॉप लॉस बनाए रखना चाहिए

मल्टीबैगर स्टॉक में वी आकार की रिकवरी के अनुमान पर च्वाइस ब्रोकिंग के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर सुमीत बगडिय़ा ने कहा, डॉली खन्ना के इस शेयर में वी शेप रिकवरी देने की प्रवृत्ति है और मल्टीबैगर स्टॉक के स्थिर होने के बाद हम इसकी उम्मीद कर सकते हैं। मुझे उम्मीद है कि यह लगभग 220 रुपए के आसपास स्थिर हो जाएगा और इसे खरीदना चाहिए। यह स्टॉक एक बार इन स्तरों पर 250 रुपए के अल्पावधि लक्ष्य और 280 रुपए के मध्यावधि लक्ष्य के लिए स्थिर हो जाता है। हालांकि, इस स्टॉक में स्थिति लेते समय किसी को 180 रुपए पर स्टॉप लॉस बनाए रखना चाहिए।

मांग बढऩे से कंपनी को फायदा

पोजि़शनल निवेशकों को लॉन्ग टर्म से बचने की सलाह पर प्रॉफिटमार्ट सिक्योरिटीज के रिसर्च हेड अविनाश गोरक्षकर ने कहा कि यह मल्टीबैगर डॉली खन्ना स्टॉक का एक कमोडिटी स्टॉक है। इसलिए काउंटर में लॉन्ग पोजीशन से बचना चाहिए। अल्पावधि में स्टॉक सकारात्मक दिखता है क्योंकि अंतरराष्ट्रीय बाजार, खासकर चीन में इसकी मांग बढ़ी है। । दरअसल, चीन ने अमेरिकी देशों के अलावा अन्य देशों से भी सोया आयात करने की घोषणा की है और अजंता सोया को इस चीनी घोषणा का लाभ मिलने की उम्मीद है। इसके अलावा, अंतरराष्ट्रीय बाजारों में सोया की कीमतें ऊपर भी चली गई हैं। इससे कंपनी को भी लाभ होने की उम्मीद है। इसलिए, स्टॉक के फंडामेंटल शॉर्ट से मध्यम अवधि के लिए सकारात्मक दिखते हैं।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.