हरीश रावत ने भी साधा कांग्रेसियों पर निशाना, कहा- मेरी बेटी को हराने की करते रहे कोशिश

हरीश रावत ने भी साधा कांग्रेसियों पर निशाना, कहा- मेरी बेटी को हराने की करते रहे कोशिश

देहरादून:- विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और खुद की हार से आहत पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने बिना नाम लिए कुछ कांग्रेसियों पर भी निशाना साधा है। हरीश रावत ने कहा कि कांग्रेस के कुछ लोगों ने बाप (मेरा) का इंतजाम करने के बाद बेटी की हार का भी इंतजाम कर दिया था। आने वाले दिनों में ऐसे लोगों को बेनकाब किया जाएगा।

अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट साझा कर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने उन्हें और उनकी बेटी अनुपमा रावत को हराने के लिए साजिश रचने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि चुनाव हारने के बाद काफी समय से सोशल मीडिया में उन पर बिना सिर-पैर के हमले करने वालों की बाढ़ सी आ गई है।

धामी की धूम पेज पर उन पर जुटकर प्रहार कर रहे भाजपाइयों के साथ-साथ कांग्रेस के एक नेता से जुड़े हुए कुछ लोग भी उन पर दनादन गोले दाग रहे हैं। उनको लगता है हरीश रावत को गिराकर मार देने का यही मौका है। हरीश ने कहा कि मुस्लिम यूनिवर्सिटी की बात कहने वाले व्यक्ति को पार्टी में पदाधिकारी बनाने वाले का नाम भी अब सामने आ चुका है।

तो एआईसीसी को उच्चस्तरीय जांच बैठानी पड़ेगी
एक विस्फोटक बात करने वाले व्यक्ति को हरिद्वार ग्रामीण में पर्यवेक्षक बनाकर किसने भेजा और किसके कहने पर भेजा, यह तथ्य अभी स्पष्ट नहीं हुआ है। कुछ लोग बाप का इंतजाम करने के बाद बेटी की हार का भी इंतजाम करने में लग गए थे। हरीश ने कहा कि यदि वह पूरे घटनाक्रम की जांच की मांग को लेकर कांग्रेस कार्यालय में उपवास पर बैठ गए तो एआईसीसी को स्वतंत्र उच्च स्तरीय जांच बैठानी पड़ेगी। हालांकि वह इस वक्त ऐसा नहीं करना चाहते, लेकिन उन पर पर लगाए जा रहे झूठे आरोप और दुष्प्रचार का खंडन भी जरूरी है।

50 नहीं अब एक लाख रुपये इनाम दूंगा…
सोशल मीडिया पर वायरल हुई कथित समाचार पत्र की कटिंग के मामले में हरीश रावत ने कहा कि पिछले दिनों उस समाचार पत्र की 10 प्रतियां लाकर देने वाले को उन्होंने 50 हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की थी, लेकिन अब वह इस इनाम राशि को बढ़ाकर एक लाख रुपये कर रहे हैं।

Admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.