यूक्रेन ने 8 देशों के लिए अनाज लदे जहाजों का काफिला किया रवाना

यूक्रेन ने 8 देशों के लिए अनाज लदे जहाजों का काफिला किया रवाना

कीव: यूक्रेन ने 1 अगस्त को संयुक्त राष्ट्र की दलाली अनाज पहल लागू होने के बाद से अनाज जहाजों का अपना सबसे बड़ा काफिला रवाना किया। यह जानकारी यूक्रेनी अवसंरचना मंत्रालय ने दी है। एक फेसबुक पोस्ट में मंत्रालय ने कहा कि कुल 13 जहाजों पर रविवार को ओडेसा, कोनोर्मोस्र्क और पिवडेन्नी के बंदरगाहों से 282,500 टन कृषि उत्पाद आठ देशों में भेजे गए। मंत्रालय के अनुसार, छह जहाज पिवडेन्नी से, पांच चोरनोमोस्र्क से और दो ओडेसा से रवाना हुए। यूक्रेन ने इस महीने लगभग आठ मिलियन टन खाद्य पदार्थो को विदेशों में बेचने का लक्ष्य रखा है, जिसमें तीस लाख टन की आपूर्ति समुद्री मार्गो से की जाएगी।

फरवरी में रूस ने कीव पर अपना आक्रमण शुरू करने के बाद यूक्रेन के प्रमुख काला सागर बंदरगाहों पर ध्यान केंद्रित किया, जो महीनों तक अवरुद्ध रहे और परिणामस्वरूप लाखों टन अनाज देश छोडऩे में असमर्थ रहे।

22 जुलाई को यूक्रेन और रूस ने संयुक्त राष्ट्र की मध्यस्थता के तहत तुर्की के साथ तीन काला सागर बंदरगाहों से यूक्रेन से निर्यात की अनुमति देने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किए, जिससे वैश्विक खाद्य बाजारों पर दबाव कम हुआ। सौदे के तहत स्थापित इस्तांबुल समन्वय केंद्र ने सप्ताहांत में कहा कि काला सागर मार्ग से अब तक 10 लाख टन अनाज और अन्य खाद्य पदार्थो का निर्यात किया जा चुका है। कुल 103 जहाजों ने या तो यूक्रेन से या 19 देशों के लिए रवाना किया था। 1 अगस्त को अनाज ले जाने वाला पहला मालवाहक जहाज ओडेसा से त्रिपोली बंदरगाह के लिए रवाना हुआ।

News Glint

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.